अमूल फुल क्रीम मिल्क की क़ीमत गुजरात छोड़कर शेष भारत में दो रुपये बढ़ी

Amul Milk Price Hiked

सार
अमूल ने अगस्त के महीने में ही दूध की कीमतों में इजाफा किया था. दिवाली के त्योहारी सीजन में एक बार फिर अमूल ने दूध की कीमतें बढ़ा दी हैं. इससे आम आदमी पर महंगाई का बोझ बढ़ेगा. वैसे ही देश में खुदरा महंगाई दर पहले से रिकॉर्ड स्तर पर बनी हुई है.

Amul Milk Price Hiked: अमूल ने शनिवार को दूध की कीमतों में 2 रुपए प्रति लीटर का इजाफा किया। अब एक लीटर फुल क्रीम अमूल दूध (अमूल गोल्ड) के पैकेट के लिए 61 रुपए की जगह 63 रुपए चुकाने होंगे। वहीं आधा लीटर दूध की कीमत 30 से बढ़कर 31 रुपए हो गई है। इसके अलावा भैंस के दूध की कीमत में भी 2 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है। इससे पहले अगस्त और मार्च में भी प्रति लीटर 2 रुपए की बढ़ोतरी की थी।

गुजरात में नहीं बढ़ाए दाम
गुजरात में अमूल दूध की कीमत में कोई इजाफा नहीं किया गया है। वहां पुराने रेट पर ही दूध मिलता रहेगा। इसकी वजह गुजरात विधानसभा चुनाव बताए जा रहे हैं। यह इस साल के आखिर तक हो सकते हैं।

पशु चारा महंगा होने की वजह से रेट बढ़े
अभी कंपनी ने रेट बढ़ाने की वजह नहीं बताई है। हालांकि इससे पहले अगस्त में जब अमूल ने कीमतें बढ़ाईं थीं, तब इसका कारण ऑपरेशन कॉस्ट और मिल्क प्रोडक्शन कॉस्ट में बढ़ोतरी को बताया था। कंपनी का कहना था कि पिछले साल की तुलना में पशु के चारे की कीमत लगभग 20% बढ़ी है। इनपुट कॉस्ट और पशु आहार में इजाफे को देखते हुए अमूल फेडरेशन से जुड़े दुग्ध संघों ने भी पिछले साल की तुलना में किसानों के दूध खरीद मूल्य में 8-9% की बढ़ोतरी की है।

मदर डेयरी और अमूल लीडिंग ब्रांड
मदर डेयरी दिल्ली-NCR मार्केट में लीडिंग मिल्क सप्लायर में से एक है और प्रति दिन 30 लाख लीटर से ज्यादा दूध पॉली पैक और वेंडिंग मशीनों के माध्यम से बेचती है। वहीं अमूल भी देश का लीडिंग ब्रांड है जिसके मालिक लाखों किसान हैं। गुजरात के दो गांवों से 75 साल पहले 247 लीटर दूध से शुरू हुआ यह सफर आज 260 लाख लीटर पर पहुंच गया है।

रिकॉर्ड स्तर महंगाई दर
महंगाई दर लगातार रिजर्व बैंक के तय लक्ष्य से ऊपर बनी हुई है. सिंतबर के महीने में खुदरा महंगाई दर 7.41 फीसदी रही थी. अगस्त में ये 7 फीसदी रही थी. अगर सिर्फ खाद्य पदार्थों की महंगाई दर देखी जाए तो स्थिति और बुरी है. सितंबर 2022 में फूड प्राइस इंडेक्स यानी कि खाद्य मुद्रास्फीति दर 8.60 फीसदी रही है. वहीं, अगस्त 2022 में ये 7.62 फीसदी और पिछले साल सितंबर में 0.68 फीसदी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News