Begusarai Firing: रांची भागने की फिराक में था मास्टरमाइंड केशव, 3 साथी भी पकड़े गए

begusarai firing

सार
पुलिस ने सुमित और युवराज नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। फिर नागा केशव और अर्जुन नाम के दो और शख्स को अरेस्ट किया गया। नागा केशव को झाझा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से पकड़ा गया।

Begusarai Firing: बेगूसराय गोलीकांड के 2 दिन बाद बिहार पुलिस मास्टरमाइंड केशव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। केशव को झारखंड की झाझा रेलवे स्टेशन पर पकड़ा गया, जिसके बाद उसे बेगूसराय पुलिस को सौंप दिया गया। अन्य 3 संदिग्ध युवराज, अर्जुन और सुमित को पुलिस ने हिरासत में लिया है। नेशनल हाईवे 28 पर 13 सितंबर को 5 जगहों पर 2 बाइक सवारों ने गोलियां बरसाईं थीं, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी।

मास्टरमाइंड केशव से पूछताछ जारी है। SP योगेंद्र कुमार ने कहा कि शुक्रवार दोपहर ढाई बजे मामले को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रहे हैं। खुलासे चौंकाने वाले हो सकते हैं।

सुमित पुराना हिस्ट्रीशीटर
चारों अपराधियों में सुमित मेन है। उसका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड है और हिस्ट्रीशीटर भी है। केशव और बाकी के दोनों अपराधी इसके अंदर में ही काम करते हैं। सूत्रों के अनुसार सुमित का कनेक्शन शराब के अवैध धंधे से भी है।

पेट्रोल पंप लूटकांड में जेल जा चुका है केशव
14 सितंबर को केशव उर्फ नागा के चार भाइयों में से एक को पुलिस ने उठाया था। पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया, जिसके बाद केशब बीहट से भागा। इसी क्रम में ट्रेन में पकड़ा गया। वह बीहट में ही पेट्रोल पंप लूट कांड में पहले जेल जा चुका है।

11 लोगों को मारी थी गोली, एक की मौत
बेगूसराय के बछवारा थाना क्षेत्र के नेशनल हाईवे-28 स्थित गोधना क्षेत्र में 13 सितंबर को शाम 4 बजे फायरिंग की वारदात सामने आई थी। 40 मिनट तक चली इस फायरिंग में हाईवे के 25 किलोमीटर के बीच 5 जगहों पर बाइक सवारों ने गोलियां बरसाईं थी।

बेगूसराय पुलिस इस पूरे मामले पर शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी। माना जा रहा है कि पुलिस इस गोलीकांड में सनसनीखेज खुलासे कर सकती है। आरोपियों की पूरी पहचान अभी तक नहीं बताई गई है। मगर बताया जा रहा है कि तीन आरोपी बेगूसराय जिले के ही रहने वाले हैं और आपराधिक छवि के हैं। केशव पहले भी जेल जा चुका है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News