गांव की सरकार के लिए थर्ड जेंडर ने मारी एंट्री, कहा-बदल दूंगी गांव का चेहरा !

bokaro panchayat chunav third gender

सार
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 2022 में बोकारो के रितुडीह पंचायत से मुखिया प्रत्याशी के लिए किन्नर राजकुमारी ने नामांकन दाखिल किया है. राजकुमारी ने गांव के विकास का वादा किया है.

Jharkhand Panchayat Chunav 2022: झारखंड पंचायत चुनाव को लेकर हलचल तेज है. गांव की सरकार बनाने को लेकर गांवों का माहौल सियासी हो गया है. प्रत्याशी नामांकन दाखिल कर अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. बोकारो में पंचायत चुनाव में थर्ड जेंडर की भी एंट्री हो गयी है. राजकुमारी किन्नर ने चास प्रखंड की रितूडीह पंचायत से मुखिया प्रत्याशी के रूप में मुखिया पद के लिए नामांकन दाखिल किया है. उन्होंने कहा कि उनकी पंचायत विकास से कोसों दूर है. अगर वे चुनाव जीतते हैं तो लोगों को गांव में विकास दिखेगा.

राजकुमारी किन्नर ने किया पर्चा दाखिल
बोकारो जिले के चास प्रखंड की रितूडीह पंचायत से मुखिया प्रत्याशी के रूप में राजकुमारी किन्नर ने पर्चा दाखिल किया है. वह मुखिया का चुनाव लड़ेंगी. जिले में पंचायत चुनाव लड़ने वाली राजकुमारी पहली किन्नर प्रत्याशी होंगी. राजकुमारी किन्नर ने नामांकन दाखिल कर दिया है. वह इस चुनाव में किन्नरों की तरफ से पहली प्रत्याशी हैं, जो चुनावी दंगल में अपनी किस्मत आजमाएंगी.

राजकुमारी किन्नर ने कहा कि मुखिया वैसा हो, जिनके रहते प्रशासन पंचायत में ठीक से काम कराए. उन्होंने कहा कि आज गरीब उसी जगह पर है जहां वे बिठाए गए थे.गरीबों का उत्थान आज तक नहीं हुआ.एकबार जनता मौका दे तब दिखा देंगे कि विकास कैसे होता हैं. उन्होंने कहा कि हम लोगों से पैसे नहीं लेते हैं बल्कि अपनी कमाई की राशि उन गरीबों को देते हैं जो असमर्थ हैं.

गांव के गरीब लोगों को करती हैं आर्थिक मदद
चुनाव में किन्नर समाज ने राजकुमारी को अपनी नेता के रूप में आगे किया है. चुनाव में जनता के बीच पहचान बनाना राजकुमारी के लिए नई शुरुआत नहीं है, वह पहले से ही गरीब असहाय परिवार के बच्चों को अपने घर में रख कर उनके शिक्षा और विवाह का भी काम कराती आ रही हैं. राजकुमारी किन्नर ने कहा कि रितूडीह पंचायत में समस्याओं का अंबार लगा हुआ है. पंचायत में ना तो सड़कें बनीं और ना ही पानी के निकास के लिए नालियां बनीं है.

पंचायत चुनाव काफी रोचक होगा 
राजकुमारी किन्नर के चुनावी मैदान में उतरने से इस पंचायत में चुनाव काफी रोचक हो गया है. किन्नर समाज प्रत्येक घरों में जाकर लोगों से मिलने का काम जोर शोर से कर रही है. बता दें कि इससे पहले बोकारो विधान सभा में बबीता हिजड़ा नाम की किन्नर ने किस्मत आजमाने का काम किया था. हालांकि, उसे तब उसे कामयाबी नहीं मिली थी, लेकिन चुनाव के दौरान उसकी चर्चा यहां के लोगों के जुबान पर थी. अब देखना यह है कि राजकुमारी किन्नर पंचायत के लोगों का कितना विश्वास जीत पाती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News