देवघर के लाल ने अपनी धरती पर उतरा पहला विमान, कैप्टन गौरव ने पूरे देवघर को किया गौरान्वित

deoghar captain gaurav

Deoghar News : देवघर के लिए मंगलवार का दिन ऐतिहासिक रहा है। जिले के बेटे कैप्टन गौरव ने गृहनगर के एयरपोर्ट पर पहली बार इंडिगो का विमान उतारा। 180 सीटर एयरबस 320 ने काेलकाता से उड़ान भरी और दाेपहर 2 बजे देवघर एयरपाेर्ट पर लैंड कर गया। उड़ान के समय विमान की स्पीड 850 किमी थी और यह 35 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ रहा था।

लैंडिंग के समय विमान का स्पीड 350 से 400 किमी थी। कैप्टन गौरव ने विमान की रनवे पर लैंड किया, तो एटीसी ने नाइस लैडिंग कह उनको बधाई दी। देवघर एयरपोर्ट डायरेक्टर संदीप धींगरा ने कहा कि रनवे का ट्रायल सफल हो चुका है। अब देवघर हवाई नक्शे से जुड़ने को तैयार है।

ट्रायल के दौरान प्रोविजनल स्लॉट के तहत दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरू एयरपोर्ट को देवघर से कनेक्ट किया गया था। धींगरा ने कहा कि एयरपोर्ट में मैनेजर और कर्मियों की नियुक्ति भी कर ली गई है। एयरपोर्ट का शुभारंभ होने ने के बाद जल्द यहां से विमान सेवा शुरू हो जाएगी।

आपको बता दें पायलट कैप्टन गौरव निशांत भी देवघर का है। यह देवघर के लिए गौरव की बात है। 2008 में एयरलाइंस में योगदान करने वाला गौरव देवघर के बरमसिया मोहल्ले के परमेश्वर दयाल रोड का रहने वाला है। पिता मुन्नम संजय ने काफी खुशी जाहिर किया। कहा कि बेटा का सपना था कि वह एक दिन अपने जन्म स्थान में बतौर पायलट पहुंचे। आज वह सपना पूरा हो गया। बता दें कि एयरपोर्ट से सटे चांदडीह का रहने वाला यह परिवार है। तो आज पूरे परिवार में काफी हर्ष व्याप्त है। मां भी बहुत प्रसन्न है। माता-पिता भी एयरपोर्ट गए थे। लेकिन उनको केवल दूर से ही देखने का मौका मिला। मुन्नम संजय ने कहा कि सपना तो पूरा होता दिखा लेकिन जब बेटा जहाज लेकर आया तो उससे मिल नहीं सका। चूंकि फ्लाइट को केवल लैंड करना था और टेक आफ करना था। गौरव कोलकाता से हवाई जहाज से उड़ान भरकर देवघर पहुंचे थे। तीन बार एयरपोर्ट की पूरब दिशा से और तीन बार पश्चिम दिशा से लैंडिंग हुई और फिर टेक आफ किया। इंडिगो के जहाज को पहले लैंडिंग कराई गई। फिर दो बार रन वे से क्रास कराया गया। वह सारी प्रक्रिया की गई जो जहाज को लैंड कराने और टेक आफ करने की होती है। विमान को टर्मिनल के पास भी लगाया गया। जहां यात्री उतर कर टर्मिनल में जाते हैं। यहां से रन वे पर जहाज आया और फिर पूरब दिशा की ओर गया। उधर से आकर उड़ान भरी।

ऐसा हो सकता है विमान का किराया

देवघर से दिल्ली 5000-6000
देवघर से मुंबई 6000-7000
देवघर से बेंगलुरू 6000-7000
देवघर काेलकाता 2500-3500
देवघर से रांची 2500 – 3500

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News