सीएम सोरेन पर कांग्रेस MLA का हमला , कहा जब नाश मनुष्य पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है… विनाशकाले विपरीत बुद्धि !

CONGRESS MLA ON CM SOREN

सार
झारखंड में राज्यसभा चुनाव में जेएमएम की ओर से उम्मीदावार का ऐलान करने के बाद कांग्रेस में नाराजगी देखने को मिल रही है. कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह और पूर्णिमा सिंह ने इसे अपमानजनक बताया है.

Jharkhand NEWS : राज्यसभा चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा द्वारा एकतरफा उम्मीदवार की घोषणा किए जाने के बाद से कांग्रेस के अंदर नाराजगी देखी जा रही है. कांग्रेस की महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने झामुमो पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का अपमान करने का आरोप लगाते हुए जमकर भड़ास निकाली है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से गठबंधन के अंदर माहौल चल रहा है वह कहीं से भी उचित नहीं है. जिस तरह से चुनाव आयोग द्वारा रिलेक्सेशन दी गयी है, उससे लगता है कि एक अलग गठबंधन के तहत झामुमो ने यह कदम उठाया है. इधर कांग्रेस विधायक पूर्णिमा सिंह ने भी झामुमो के इस रुख पर नाराजगी जताते हुए अपमानित करने का आरोप लगाया है.

राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस को नकार प्रत्याशी देने वाली झामुमो के प्रति कांग्रेसियों की नाराजगी इंटरनेट मीडिया पर भी देखने को मिल रही है। कांग्रेसी नेताओं की टिप्पणी में दुख भी झलक रहा है और रोष भी। जामताड़ा के कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी ने अपने ट्वीट में अपने दुख को जाहिर करते हुए एक शेर लिखा है। लिखा है, पत्थर तो हजारों ने मुझे मारे थे, मगर जो दिल पर आके लगा वह एक दोस्त ने मारा था।

इरफान अंसारी राज्यसभा चुनाव में अपने पिता फुरकान अंसारी के टिकट के लिए प्रयासरत थे। रांची-दिल्ली एक किए हुए थे, लेकिन झामुमो की एकतरफा घोषणा ने उनके प्रयासों पर पानी फेर दिया। कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने इस निर्णय के लिए अपेक्षाकृत तल्ख टिप्पणी की है। दीपका ने अपने ट्वीट में लिखा है, विनाशकाले विपरीत बुद्धि।

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत ने तीखे शब्दों में लिखा है कि जब नाश मनुष्य पर छाता है तो पहले विवेक मर जाता है। सुखदेव भगत ने ट्वीट में कांग्रेस नेतृत्व के जमीर को भी जगाया है। लिखा है कि निर्णय कठोर लिए जाते हैं, कायर समर्पण करते हैं। वहीं, भाजपा इस पूरे प्रकरण पर चुटकी लेती दिखी है। भाजपा विधायक भानु प्रताप शाही ने अपने ट्वीट में लिखा कि सारे मान-सम्मान गिरवी रखकर, सारे अपमान सहकर भी हम सरकार में बनें रहेंगे…। हम हैं झारखंड के कांग्रेसी।

इधर झारखंड में राज्यसभा चुनाव के लिए झामुमो द्वारा एकतरफा प्रत्याशी महुआ माजी को मैदान में उतारे जाने पर कांग्रेसियों में भारी नाराजगी देखी जा रही है। सत्तारूढ़ गठबंधन वाली सरकार पर गहरा संकट आन खड़ा हुआ है। कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष राजेश ठाकुर ने इसे झामुमो का निजी फैसला बताया है। कहा कि हम अभी इस पर हम बहुत कुछ नहीं कह सकते। आलाकमान सोनिया गांधी, राहुल गांधी को पूरे घटनाक्रम से अवगत करा दिया है। हम जल्‍द बताएंगे कि हमारा स्टैंड अब क्या होगा और हम क्या करेंगे। चुनाव में झामुमो को कैसे मदद करनी है, या नहीं करनी है। इस पर बड़ा फैसला करेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News