झारखंड में तेजी से बढ़ रहा कोरोना, मास्क पहनना फिर अनिवार्य, सोरेन सरकार ने जारी किया एसओपी !

jharkhand corona update

सार
देश में कोरोना केस में लगातार इजाफा हो रहा है। रविवार को 12,781 नए संक्रमित मिले। 18 मरीजों की मौत हो गई। अभी 76,700 का इलाज चल रहा है। सिर्फ महाराष्ट्र में ही सबसे ज्यादा 4,004 मरीज मिले हैं। 3,376 नए संक्रमितों के साथ केरल दूसरे नंबर पर है। देश में एक दिन पहले ही शनिवार को 12,899, जबकि शुक्रवार को 13,216 केस मिले थे। बीते 7 दिन में ही 66 हजार से ज्यादा केस आ चुके हैं।

Jharkhand Corona Update : राज्य में एक बार फिर कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने लगा है। लगभग सभी जिलों में अब कोरोना संक्रमित मरीज मिलने लगे हैं। झारखंड सरकार ने खतरे की आशंका को देखते हुए एक बार फिर एसओपी जारी कर दिया है। झारखंड में सभी बंद जगहों, बसों, कार्यालयों में अब मास्‍क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। इस संबंध में सरकार ने एक आदेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि सभी स्कूलों एवं कोचिंग सेंटरों को केंद्र सरकार की ओर से पूर्व में जारी एसओपी के अनुसार खोलना होगा। छात्र मास्क लगाकर, शारीरिक दूरी का पालन करते हुए कक्षा में आएंगे। कोविड के प्रसार को रोकने के मद्देनजर जिलों को आदेश जारी कर दिया गया है। बंद परिसरों में फेस कवर अथवा मास्क अनिवार्य कर दिया गया है। कहा गया है कि कक्षाओं में छात्राें के बीच कम से कम 6 फीट की दूरी अनिवार्य होगी। एक बेंच पर एक ही छात्र को बैठने की इजाजत होगी। स्कूलों के स्टाफ रूम में भी दूरी बनाकर रहना होगा। कंटेनमेंट जोन के बाहर के रेस्टूरेंट खुलेंगे, बाकी में शारीरिक दूरी का ख्याल रखना होगा।

बंद जगहों, कार्यस्थलों और सार्वजनिक परिवहन के दौरान फेस कवर और मास्क पहनना अनिवार्य है.
प्रत्येक व्यक्ति सार्वजनिक स्थानों और कार्य स्थलों पर पर्याप्त सामाजिक दूरी बनाए रखेंगे.
कार्य स्थलों पर हैंड वाश या सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी.
सार्वजनिक स्थानों पर थूकना प्रतिबंधित है. बंद स्थानों में उचित वेंटिलेशन सुनिश्चित किया जाना चाहिए.
सभी स्कूल और कोचिंग संस्थानों को केंद्रीय स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग द्वारा जारी निर्देशों का पालन करना होगा.
इसी तरह सभी कॉलेज और विश्वविद्यालय को कोविड-19 के समय लगे लॉकडाउन के बाद खोलने के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा कई तरह के दिशा-निर्देश दिये गये थे. उन निर्देशों को फिर से पालन करना होगा.
सभी आईटीआई, कौशल विकास केंद्र, पॉलिटेक्निक प्रशिक्षण और औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अपने यहां शैक्षणिक कार्य को फिर से शुरू करने पर कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के महानिदेशालय द्वारा जारी एसओपी का पालन करेंगे.
राज्य में स्थित केंद्र सरकार और राज्य सरकार के प्रशिक्षण संस्थानों को केंद्रीय कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग द्वारा जारी एसओपी का पालन करना होगा.
केंद्र सरकार के विभिन्न प्राधिकरणों, झारखंड सरकार, विश्वविद्यालयों, कॉलेजों, स्कूलों द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाएं और प्राइवेट संस्थानों द्वारा आयोजित राष्ट्रीय परीक्षाओं में केंद्रीय परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा 10 सितम्बर 2020 को जारी निर्देशों को अनुपालन करना होगा.
शॉपिंग मॉल केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा 1 मार्च 2021 को जारी निर्देशों के तहत संचालित होंगे.
मूवी हॉल और मल्टीप्लेक्स 31 जनवरी 2021 को जारी निर्देशों के तहत संचालित होंगे.
सभी धार्मिक स्थल, पूजा स्थल केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा 1 मार्च 2021 को जारी निर्देशों के तहत संचालित होंगे.
व्यायामशालाएं और योग संस्थान स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी एसओपी का अनुपालन करेंगे.
उपरोक्त दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने वाले किसी भी व्यक्ति के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 सहित आईपीसी की धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

केरल में सबसे ज्यादा मौतें
इस बीच केरल में 3,376 मामले सामने आए हैं। केरल में एक्टिव केस 21,571 और पॉजिटिविटी रेट 16.44% है। देखा जाए देश में हुई कुल 18 नए लोगों में अकेले 11 केरल में दर्ज किए गए हैं। दिल्ली के तीन और कर्नाटक, महाराष्ट्र, पंजाब और पश्चिम बंगाल के एक-एक व्यक्ति शामिल है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News