दानिश रिजवान पर झारखंड की महिला ने दुष्कर्म का लगया आरोप, कहा – मेर बच्चे के हैं पिता वो !

danish rizwan rape case

सार
दानिश रिजवान पर एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगया है. साथ ही ये भी कहा की उनका एक बेटा है. जिसे अपने पिता का नाम मिलना चाहिए. पटना के सचिवालय थाने में बीते 14 सितंबर को दानिश के खिलाफ एक आदिवासी महिला के बयान पर एफ आई आर दर्ज की गई है.

Patna Desk : जीतन राम मांझी की पार्टी हम के राष्ट्रीय प्रधान सचिव सह प्रवक्ता दानिश रिजवान मुश्किलों में फंसते नजर आ रहे हैं. दरअसल झारखंड की रहने वाली एक अनुसूचित जनजाति की महिला द्वारा सचिवालय थाना में हिंदुस्तानी आवामी मोर्चा (हम) के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव दानिश रिजवान पर दुष्कर्म का आरोप लगाया गया है. झारखण्ड की रहने वाली इस महिला को एक दस साल का पुत्र भी है. महिला का आरोप है कि यह पुत्र भी दानिश रिजवान का है. महिला ने पटना पुलिस के अधिकारियों से गुहार लगाई है कि उसके बेटे का डीएनए टेस्ट कराया जाए क्योंकि वह दानिश रिजवान का ही बेटा है.

महिला की गुहार के बाद पटना पुलिस ने फैसला लिया है कि महिला के बेटे का डीएनए टेस्ट कराया जाएगा. सचिवालय एएसपी काम्या मिश्रा ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन की जा रही है. आरोपी बनाये गये दानिश रिजवान ने कहा कि उन्हें इस मामले के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. वो हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं. प्राथमिकी में लिखे आरोपों के अनुसार, महिला साल 2011 में किसी काम से पटना आई थी, जहां उसकी मुलाकात दानिश रिजवान से हुई थी. दानिश रिजवान उस वक्त एक टीवी चैनल में कार्यरत थे.

पटना में महिला अपना काम खत्म कर रांची जाने के लिए स्टेशन पहुंची तब वहां कुछ असामाजिक तत्व उसे परेशान करने लगे. उस वक्त रांची के लिए कोई ट्रेन भी नहीं थी, जिसके बाद महिला पटना जंक्शन के बाहर आ गई, जहां दानिश रिजवान से उनकी मुलाकात हुई. दानिश इसके बाद महिला को अपने साथ सचिवालय के आस पास एक फ्लैट में लेकर चले गये. दानिश रिजवान ने यहां दो प्लेट खाना मंगवाया. जब महिला ने खाना खाया तब उसे चक्कर आने लगा, इसके बाद दानिश ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

दानिश रिजवान के ऊपर दुष्कर्म का एफआईआर दर्ज कराने वाली आदिवासी महिला का विवादों से पुराना रिश्ता रहा है. यह महिला पहले भी दूसरे शख्स के ऊपर दुष्कर्म का आरोप लगा चुकी है, हालांकि उस मामले में जिस के ऊपर आरोप लगाया गया वह साबित भी नहीं हो पाया था. झारखंड से जुड़े एक मामले में दुष्कर्म की ही शिकायत लेकर यह महिला मुख्यमंत्री के जनता दरबार कार्यक्रम में आई थी. साल 2011 में जनता दरबार के दौरान इसने फरियाद लगाई थी और महिला का आरोप है कि इसी दौरान वह दानिश रिजवान के संपर्क में आई.

इतना ही नहीं यह महिला एक मामले में जेल भी जा चुकी है. पीड़िता ने खुद अपनी F.I.R में इस बात का जिक्र किया है कि वह इस मामले में जब एसएसपी रांची के पास मिलने पहुंची थी तो किसी अन्य मामले में उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. जेल जाने के एक महीने बाद उसे पता चला कि वह गर्भवती है. महिला का आरोप है कि उसने जिस बच्चे को जन्म दिया है वह दानिश का है. अब वह मांग कर रही है कि अपने बच्चे को पिता का नाम दिला दे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News