Triple Suicide Case : घर पैक किया, अंगीठी जलाई और खोल दी गैस… सामने आया मां-बेटियों का खौफनाक प्लान

DELHI TRIPPLE SUCIDE CASE

सार
Delhi Triple Suicide Case: आवासीय सोसायटी के अध्यक्ष एम डेविड ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया है कि परिवार ने घटना से पहले घर को “गैस चैंबर” में बदल दिया था। हालांकि, पुलिस ने कहा कि मामले में आगे की जांच जारी है।

स्टोरी हाइलाइट्स
वसंत विहार ट्रिपल सुसाइड में बड़ा खुलासा
प्लान के तहत घर को बनाया था गैस चेंबर
फिर मां बेटी ने किया सुसाइड

Delhi Triple Suicide: दिल्ली वसंत विहार इलाके में शनिवार को एक महिला और उसकी दो बेटियां अपने घर में मृत पाई गईं। एक पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि घर से एक सुसाइड नोट बरामद किया गया है। मृतकों की पहचान मंजू (मां) और उनकी दो बेटियों अंशिका और अंकू के रूप में हुई है। इस ट्रिपल सुसाइड केस में अब बड़ा खुलासा हुआ है। दिल्ली के गैस चेम्बर फ्लैट नंबर 207 में आत्महत्या के लिए मां और दो बेटियों ने एक बेहद खौफनाक प्लान बनाया था।

ऐसे बनाया घर को गैस चेंबर
सुसाइड के लिए मां और बेटियों ने पूरे घर के अंदर के सारे रोशनदानों को पॉलीथीन से पैक किया था। घर की सभी खिड़कियों को पॉलीथीन से ढक दिया था, घर के बाहर के रोशनदान, वेंटिलेशन वाली खिड़की को भी पैक कर दिया गया था। इसके बाद उन सभी ने घर के अंदर की ऑक्सीजन को खत्म करने के लिए अंगीठी जलाई। इतना ही नहीं इसके बाद मां और बेटियों ने घर का गैस सिलेंडर खोल दिया। घर को प्लान के तहत मां और दो बेटियों ने गैस चेंबर बनाकर सुसाइड किया।

घर के मुखिया की मौत से डिप्रेशन में थीं मां-बेटियां
दक्षिण-पश्चिम दिल्ली डीसीपी मनोज सी ने बताया कि ऐसा माना जा रहा है कि तीनों की मौत दम घुटने से हुई है. मृतकों की पहचान मंजू और उसकी बेटियों अंशिका और अंकु के रूप में हुई है. मृत बुजुर्ग महिला और उनकी दोनों बेटियों की उम्र 30 साल के आसपास बताई जा रही है. पुलिस के मुताबिक मंजू के पति की पिछले साल अप्रैल में कोरोना वायरस से मौत हो गई थी और तभी से परिवार अवसाद में था. इसी के चलते तीनों ने सामूहिक रूप से आत्महत्या कर ली.

अंगीठी में केमिकल डालने की भी बात आई सामने !
शुरुआती जांच में सामने आ रहा है कि सुसाइड के लिए प्लानिंग के तहत अंगीठी में कोई रासायनिक पदार्थ डालकर छोड़ दिया गया था ताकि उससे निकली जहरीली गैस पूरे घर में फैल सके. हालांकि, अभी मामले की जांच जारी है.

दीवार से चिपका मिला ये नोट
पुलिस जब घर के अंदर दाखिल हुई तो दीवार से चिपका हुआ एक नोट भी मिला, जिसमें लिखा था, ”Too Much Deadly Gas…, दरवाजा खोलने के बाद माचिस या लाइटर न जलाएं. घर में काफी खतरनाक जहरीली गैस भरी हुई है.”

… जब अंदर घुसी पुलिस
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और फ्लैट नंबर 207 के अंदर दाखिल हुई तो एक नोट मिला। इस नोट में लिखा था, “Too much deadly gas (बहुत सारी जहरीली गैस), दरवाजा खोलने के बाद माचिस या लाइटर न जलाएं, घर में काफी खतरनाक जहरीली गैस भरी हुई है।” दरअसल, ये नोट इसलिए लिखा गया था कि मौत के बाद जब पुलिस अंदर दाखिल हो तब घर में फैली गैस की वजह से कोई हादसा न हो। डीसीपी ने कहा, “पुलिस ने दरवाजा खोलने में कामयाबी हासिल की और पाया कि एक गैस सिलेंडर आंशिक रूप से खुला था और एक सुसाइड नोट भी था।” पुलिस ने जब घर की तलाशी ली तो एक कमरे में बिस्तर पर तीन लाशें पड़ी मिलीं और वहां तीन छोटी मोमबत्तियां रखी हुई थीं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News