बीच सड़क जिस शख्स को पीटा वो डिप्टी कलेक्टर निकले, दंपती की दुकान पर चली JCB !

MAHILA NE DC KI PITAI KI

सार
 मध्यप्रदेश के मंदसौर में चाय बेचने वाली दंपती ने डिप्टी कलेक्टर की ही पिटाई कर दी। उनकी गलती यह थी कि वह स्टंटबाज को समझाइश दे रहे थे। अब इस घटना का वीडियो वायरल हो गया है।

Deputy Collector Beaten Video: मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इसमें मंदसौर के डिप्टी कलेक्टर को सड़क पर एक दंपती पीटते नजर आ रहे हैं. वीडियो में आसपास कई लोग खड़े दिख रहे हैं. झगड़े को छुड़ाने की कोशिश कर रहे हैं. पिटाई कर रही महिला डिप्टी कलेक्टर अरविंद माहौर को चप्पल से मारने की भी कोशिश करती है. वहीं उसका पति डीसी को गाली देता दिख रहा है. मारपीट कर रहे पति-पत्नी के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

पूरा मामला क्या है?
अब पूरे इस पूरे वीडियो के बारे में बताते हैं. वीडियो 20 जुलाई का है. उसी दिन मध्य प्रदेश में निकाय चुनाव के परिणाम आए. डिप्टी कलेक्टर अरविंद माहौर चुनाव की मतगणना को लेकर पिपलिया मंडी जा रहे थे. उनके साथ ये पूरा विवाद महू-नीमच हाईवे पर होम गार्ड ऑफिस के पास हुआ. बाद में डिप्टी कलेक्टर ने मीडिया को बताया कि सड़क पर एक लड़का तेज स्पीड से बाइक चलाते हुए जा रहा था. उन्होंने कहा,

“बार-बार बोलने पर भी वो साइड नहीं दे रहा था. इस पर मैंने आगे बढ़कर रोका. उसे थोड़ा डांटते हुए समझाया. इतने में डिवाइडर के दूसरी तरफ गुमटी (दुकान) वाले पति-पत्नी आकर उलझ गए. मुझे धमकी दी. महिला ने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया. चूंकि वो महिला थीं इसलिए मैंने संयम बरता.”

काउंटिंग सेंटर जा रहे थे डिप्टी कलेक्टर
मामला बुधवार का है। डिप्टी कलेक्टर अरविंद भाभोर पिपलियामंडी स्थित निकाय चुनाव के काउंटिंग सेंटर जा रहे थे। वहां एक बाइक पर युवक स्टंट करते हुए निकला। डिप्टी कलेक्टर ने कार रोकी और उसे समझाइश दे रहे थे। इस बीच चाय-नाश्ते की गुमटी लगाने वाले मनोहर झारिया और उसकी पत्नी ने भाभोर से बहस शुरू कर दी। मामला बढ़ा तो दोनों ने मिलकर भाभोर की पिटाई कर दी।

सच पता चलने पर गिड़गिड़ाए दंपती
मारपीट की सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पता चला कि जिसे पीटा गया है वह डिप्टी कलेक्टर है। इसके बाद दोनों पति-पत्नी अधिकारी से माफी मांगने लगे। अधिकारी की शिकायत पर वायडी नगर पुलिस ने दंपति के शासकीय काम में बाधा डालने, मारपीट और SC-ST एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया। मनोहर का कहना है कि युवक और अधिकारी में विवाद देखकर वह बीचबचाव कर रहा था। डिप्टी कलेक्टर उनसे ही उलझ गए। इस बीच प्रशासन ने गुमटी पर ही बुलडोजर चला दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News