85 हजार का कैमरा 10 हजार में देख किया था ऑनलाइन ऑर्डर, पार्सल खोलने पर निकला 1KG आलू !

drone camra ke jagah nikla aalu

Bihar News : नालंदा में एक युवक ने ऑनलाइन शॉपिंग साइट मीशो से एक ड्रोन कैमरा ऑर्डर किया। इसके लिए उसने ऑनलाइन पेमेंट भी कर दिया, लेकिन जब उसने पार्सल खोलकर देता तो उसमें आलू निकले। युवक ने इसका वीडियो भी बनाया और मीशो से शिकायत भी की है। युवक ने जो ड्रोन कैमरा ऑर्डर किया था उसकी मार्केट वेल्यू 85000 रुपए थी, लेकिन मीशो पर वो 10000 रुपए में मिल रहा था। उसने पहले मीशो को कॉल करके कंफर्म किया।

युवक का कहना है कि मीशो की ओर से कहा गया कि ऑफर है इसलिए सस्ता दिया जा रहा है। युवक को पहले से शक था, इसलिए जब डिलीवरी ब्वॉय ऑर्डर देने आया तो उसने पार्सल खोलते हुए वीडियो बनाया।

युवक ने मीशो पर इसकी ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराई है। कंपनी ने पैसे वापस करने की बात कही है। पूरा मामला परवलपुर प्रखंड अंतर्गत बाजार इलाके का रविवार का है।

छोटा पैकेट देख हुआ था शक
इस कैमरे को ऑर्डर करने वाले ज्वेलर चैतन्य कुमार ने बताया कि मैंने मीशो कंपनी से डीजेआई का एक ड्रोन कैमरा ऑनलाइन बुक कराया था। उसी समय पूरी पेमेंट कर दी थी। रविवार को जब सैडो फैक्स कार्यालय से डिलीवरी पार्सल देने आया तो उसे शक हुआ। इसके बाद उसने पार्सल की डिलीवरी देने आए डिलीवरी मैन को पार्सल खोलने के लिए कहा और इसका वीडियोग्राफी कर ली। डिलीवरी ब्वॉय ने जैसे ही पार्सल को खोला उसमें एक किलो आलू निकले।

डिलीवरी ब्वॉय ने कैमरे के सामने यह कबूल किया कि वह शैडो फैक्स कार्यालय से पार्सल लेकर आया था। जिसके अंदर ड्रोन कैमरे की जगह आलू निकला। इस मामले में परवलपुर थानाध्यक्ष ने बताया की उन्हें इस मामले में अभी तक आवेदन प्राप्त नहीं हुआ है। आवेदन मिलने पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

85 हजार का कैमरा 10 हजार में देख किया था ऑर्डर

इस मामले में पीड़ित चैतन्य कुमार ने बताया कि उन्होंने मीशो साइट से ड्रोन का ऑर्डर किया था जिसकी कीमत मीशो पर ₹10212 जबकि अमेज़न पर सेम प्रोडक्ट की कीमत ₹84999 थी इस मामले में कंफर्मेशन के लिए जब मीशो को मेल किया गया तो उन्होंने निश्चिंत होकर प्रोडक्ट लेने की बात कही।

संदेह होने पर उन्होंने पार्सल की वीडियोग्राफी कराई जिसके अंदर से आलू निकला अभी संदर्भ में उन्होंने मीशो को फिर मेल किया है तो मीशो ने पैसे रिटर्न करने की बात कही है। हालांकि पीड़ित के द्वारा पैसे नहीं बल्कि प्रोडक्ट की मांग किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News