मीट कारोबारी के अलग-अलग ठिकानों में छापेमारी के बाद 100 करोड़ की अघोषित संपत्ति का खुलासा !

ED RAID HMA GROUP

आगरा में HMA ग्रुप पर आयकर विभाग की रेड 100 घंटे बाद खत्म हो गई है. विभाग ने इसके पहले ग्रुप के दिल्ली-यूपी सहित 33 ठिकानों पर तलाशी शुरू की थी. यह रेड शनिवार यानी 5 नवंबर की सुबह से ही चल रही थी. इस छापेमारी में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. इसमें आगरा में अब तक की सबसे बड़ी रकम पकड़ी गई है. ग्रुप ने 100 करोड़ रुपये की अघोषित आय सरेंडर किया है. आईटी की टीम संपत्तियों के कागजात समेत कई सबूत अपने साथ लेकर गई है. बताया जा रहा है कि जांच के बाद HMA ग्रुप पर IT विभाग का शिकंजा और भी कसेगा. खबर है कि आयकर अधिकारियों को रेड में बेनामी संपत्ति समेत कैश और गोल्ड की जरूरी जानकारी मिली है.

नामी कंपनी है एचएमए ग्रुप
बता दें कि आगरा में बड़े मीट कारोबारी जुल्फिकार अहमद भुट्टो के ग्रुप पर यह बड़ी कार्रवाई हुई है. जुल्फिकार अहमद भुट्टो पूर्व विधायक भी हैं. बसपा के शासन में उनकी बहुत चलती थी. एमएचए गुप मीट का करोबार करने वाली देश की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है. इस कंपनी का बहुत नाम है. आगरा का HMA ग्रुप करीब 40 देशों को मीट निर्यात करता है. HMA ग्रुप मीट निर्यात करने वाली बहुत बड़ी कंपनी है.

सभी एंगल से की जा रही जांच
बताया जा रहा है कि यहां अलीगढ़ स्लॉटर हाउस में पशुओं का अवैध कटान हुआ था. यहां गर्भवती भैंसों का भी अवैध कटान हुआ था. FIR दर्ज होने के बाद से अलीगढ़ स्लॉटर हाउस बन्द है. सूत्रों का कहना है कि आयकर विभाग खाड़ी देशों से आयी रकम की भी जांच करेगा. विभाग को खाड़ी देशों से पैसे के लेनदेन की जानकारी मिली है. हवाला एंगल से भी इस मामले की जांच चल रही है.

प्रशासन ने कराया था बंद
बता दें कि HMA ग्रुप का विवादों से पुराना नाता है. यहां पाकिस्तान कनेक्शन का पता चलने के बाद प्रतिबंधित पशु यानी गौवंश के कटान की व्हाट्सएप चैट भी वायरल हुई थी. इस चैट में कामिल कुरैशी अपने मैनेजमेंट से गौवंश के अवैध कटान को लेकर निर्देश दे रहा है. प्रतिबंधित पशु के कटान की बात सामने आने के बाद प्रशासन ने अलीगढ़ स्लॉटर हाउस को बंद करा दिया था. मामला सामने आने के बाद अलीगढ़ पुलिस द्वारा भी मुकदमा दर्ज किया गया था. बताया जा रहा है कि आयकर अधिकारियों को रेड में बेनामी संपत्ति समेत कैश और गोल्ड की महत्वपूर्ण जानकारी मिली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News