“हैप्पी बड्डे, अब अगले जन्म में मिलेंगे” – कर्ज में डूबे पूरे परिवार ने जहरीला केक खाकर कर ली आत्महत्या !

BIRTHDAY ME ZEHREELA CAKE

सार
सुसाइड के दौरान मृतक जेई शैलेंद्र ने घर में केक काटा था और सबको केक खिलाया था. यही नहीं केक खिलाते समय जेई शैलेंद्र कुमार ने कहा था, ‘अब हम सबको अगला जन्मदिन मुबारक हो.’ इसके बाद तीनों तड़पने लगे थे. जब पड़ोसी तीनों को अस्पताल ले जा रहे थे, तब तीनों मना कर रहे थे.

नलकूप विभाग में तैनत एक जूनियर इंजीनियर ने अपनी पत्नी और बेटी के साथ 27 जुलाई को आत्महत्या कर ली। इस मामले हर रोज कोई ना कोई खुलासा हो रहा है। पुलिस के मुताबिक, जेई ने सुसाइड से पहले घर के अंदर केक काटा था। दरअसल, पुलिस को तलाशी के दौरान घर के अंदर मेज पर केक पड़ा हुआ मिला था। पुलिस को आशंका है कि जेई ने केक के अंदर सल्फास की मिला दी होगी, जिसकों खाने से सभी की मौत हो गई। पुलिस ने केक को जांच के लिए लैब भेज है।

इतना ही नहीं, पुलिस के सामने यह बात भी आई है कि शैलेंद्र ने बख्शी का तालाब में 54 हजार वर्गफीट जमीन खरीदी थी जो विवादित निकली। इस विवादित जमीन में करोड़ों रुपये डूब गए थे। लगातार आर्थिक रूप से तंगी की तरफ जा रहे शैलेंद्र डिप्रेशन का शिकार हो गए। ऐसा माना जा रहा है कि इसी कारण शैलेंद्र ने यह कदम उठाया हो। यह मामला लखनऊ के जानकीपुरम इलाके का है। जूनियर इंजीनियर शैलेंद्र कुमार (42) सुल्तानपुर गांव के रहने वाले है। उन्होंने 27 जुलाई को अपनी पत्नी गीता (40) और बेटी प्राची (17) ने जहरीला पदार्थ खा लिया।

मेज पर रखा था केक
तीनों को गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान तीनों ने दम तोड़ दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी। घर के अंदर पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला था। पूरे घर की तलाशी के दौरान पुलिस को घर के अंदर मेज पर केक भी पड़ा हुआ मिला था। पुलिस ने ऐसी आशंका जताई है कि जेई शैलेंद्र ने केक के अंदर सल्फास की गोलियां मिला दी होगी, जिसको खाते ही तीनों की मौत हो गई।

सुसाइड से पहले दोस्त को भी किया था फोन
शैलेंद्र ने सुसाइड करने से पहले अपने दोस्त को कॉल किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फोन पर शैलेंद्र ने कहा था कि अब जी नहीं पाएंगे हम। जब तक वो कुछ समझ पाता, शैलेंद्र ने फोन काट दिया। हालांकि, शैलेंद्र के दोस्त ने 112 पर फोन करके पुलिस को भेजा, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। शैलेंद्र के दोस्त की मानें दो महीने पहले उनका व शैलेंद्र का परिवार केरल घूमने गया था। बताया कि शैलेंद्र अपने बेटे प्रशांत को अच्छा क्रिकेटर बनाना चाहता था। करीब 15 दिन पहले शैलेंद्र ने अपने बेटे का इंदौर की क्रिकेट अकादमी में दाखिला कराया था।

सुसाइड नोट में जमीन का था जिक्र
सुसाइट नोट में शैलेंद्र ने जमीन का जिक्र भी किया था। पुलिस की मानें तो शैलेंद्र ने 2014 में एक प्रॉपर्टी डीलर से बीकेटी में 54 हजार वर्गफीट जमीन खरीदी थी। रजिस्ट्री के बाद जब दाखिल खारिज कराने पहुंचा तो पता चला कि जमीन विवादित है। रजिस्ट्री दिखाकर मोबीन और नरेंद्र प्रताप को एग्रीमेंट किया। शैलेंद्र ने मोबीन से नौ लाख रुपये और नरेंद्र से 10 लाख रुपये लिए थे। लेकिन दोनों को रजिस्ट्री नहीं कर पा रहा था। वहीं, इस जमीने पर लोन कराने के नाम पर एक ने उनसे मोटी रकम हड़प ली। पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर लिया है। वहीं जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिया है।

चार लोग हिरासत में
रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस की जांच में ये भी सामने आया है कि सुसाइड करने से पहले शैलेंद्र ने अपने ऑफिस में साथ काम करने वाले एक व्यक्ति को भी फोन मिलाया था. शैलेंद्र ने अपने सहकर्मी से कहा था कि वो अब जी नहीं पाएंगे और केक मंगाकर जन्मदिन मनाने जा रहे हैं. हालांकि, ये बात सहकर्मी को समझ नहीं आई थी. उसने पुलिस को फोन किया था. तब तक बहुत देर हो चुकी थी.

इधर इस मामले में पुलिस ने अभी तक चार लोगों को हिरासत में लिया है. ये कार्रवाई सुसाइड नोट के आधार पर की. रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने अपनी शुरुआती जांच में पाया है कि तीनों को सुसाइड के लिए उकसाया गया. पुलिस के मुताबिक, परिवार को प्रताड़ित किया गया और हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ की जा रही है.

रिपोर्ट के अनुसार, जिन लोगों को हिरासत में लिया गया है उनके नाम शैलेंद्र कुमार श्रीवास्तव, मोबीन खान, नरेंद्र प्रताप सिंह और संतोष कुमार शुक्ला हैं. सुसाइड नोट में जिक्र है कि शैलेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने चार साल पहले 65 लाख रुपये का लोन कराया. वहीं मोबीन खान ने तीन साल पहले एक प्लॉट का एग्रीमेंट कराया था और 20 फीसदी ब्याज पर 10 लाख रुपये दिए और जब रुपये नहीं दे पाए तो परिवार को प्रताड़ित किया जाने लगा.

संतोष कुमार शुक्ला पर आरोप है यह घर पर आकर नरेंद्र प्रताप सिंह के साथ गाली गलौज करते थे. पूरे परिवार को मारने की धमकी देते थे. इसके अलावा पुलिस के हाथ एक और सुसाइड नोट लगा है, जिसमें किसी दूर के रिश्तेदार का नाम है. पुलिस दोनों सुसाइड नोट की हैंडराइटिंग की फॉरेंसिक जांच करवा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News