Jharkhand News: जेल में निलंबित IAS पूजा सिंघल का चना-गुड़ देखकर फिर से चढ़ा बुखार !

IAS PUJA SINGHAL JAIL KA KHANA

सार
निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल की आज ईडी कोर्ट में पेशी हुई. सुनवाई के बाद अब वो 8 जून तक न्यायिक हिरासत रहेंगी. जिसके बाद उन्हें जेल भेजा जाएगा

Jharkhand News : झारखंड की सस्पेंड IAS अफसर पूजा सिंघल को ED (प्रवर्तन निदेशालय) की रांची स्थित विशेष अदालत ने 9 जून को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। पूजा सिंघल की बुधवार को रिमांड समाप्त हो गई थी। इसके बाद ED ने उन्हें कोर्ट में पेश किया था।

पूजा सिंघल विशेष न्यायाधीश पीके शर्मा की कोर्ट में उपस्थित हुईं। वह पेशी के लिए दोपहर करीब पौने एक बजे रांची के क्षेत्रीय कार्यालय से कोर्ट के लिए रवाना हुईं। ED ने खनन और मनरेगा में भ्रष्टाचार के मामले में सिंघल को 11 मई को गिरफ्तार किया था।

अदालत में पेशी के दौरान जांच एजेंसी, ईडी के विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह व अतीश कुमार ने अदालत को बताया कि मनी लांड्रिंग का मामला बहुत बड़ा है। अभी और पूछताछ की आवश्यकता है। कानून के तहत अब आरोपित को पूछताछ के लिए रिमांड पर नहीं लिया जा सकता है। गिरफ्तारी के बाद अधिकतम 14 दिन ही रिमांड पर लिया जा सकता है, जो पूरी हो चुकी है। पूजा सिंघल से जरूरत के अनुसार जेल में ही पूछताछ की अनुमति दी जाए।

पूजा सिंघल से जेल में पूछताछ के आग्रह पर अदालत ने कहा कि इसके लिए अलग से जांच एजेंसी को आवेदन देना होगा। पूजा सिंघल के अधिवक्ता विश्वजीत मुखर्जी ने कहा कि पूजा सिंघल की तबीयत ठीक नहीं है। इनको जेल में बेहतर मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराई जाए। अदालत ने कहा कि जेल अधीक्षक एवं जेल चिकित्सक को इसका निर्देश दे दिया गया है। दोनों पक्षों की बहस पूरी होने के बाद अदालत ने आरोपित पूजा सिंघल को जेल भेजे जाने का निर्देश दिया। जिसके बाद उन्हें बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा भेज दिया गया।

14 दिन की रिमांड लेकर ईडी ने की पूछताछ
ईडी ने मनी लांड्रिंग के आरोप में 11 मई को पूजा सिंघल को गिरफ्तार किया था। उसी दिन देर शाम को अदालत में पेशी के बाद जेल भेज दिया गया था। अगले दिन ईडी की टीम ने अदालत की अनुमति के तहत पूछताछ के लिए पूजा सिंघल को अपने साथ ले गई। 16 मई को रिमांड अवधि खत्म होने पर अदालत में पेश किया गया। जहां से फिर से चार दिनों की रिमांड पर ईडी अपने साथ ले गई।

इससे पहले 20 मई को रिमांड अवधि खत्म होने पर पूजा को अदालत में पेश किया गया। जहां से एक बार फिर पांच दिनों की रिमांड पर ईडी अपने साथ ही ले गई। बुधवार को रिमांड अवधि पूरी होने के बाद अदालत में पेश किया गया। जहां से जेल भेज दिया गया। मामले के अन्य दो आरोपित पूजा सिंघल के पति के सीए सुमन कुमार एवं निलंबित जूनियर इंजीनियर राम बिनोद प्रसाद सिन्हा को अगली पेशी के दिन तीनों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अदालत में पेश किया जाएगा।

जेल पहुंचते ही आइएएस मैडम की हालत खराब
इधर खबर है कि रांची के होटवार जेल पहुंचते ही एक बार फिर से आइएएस पूजा सिंघल की हालत खराब हो गई। वह जेल के चना-गुड़ का नाश्‍ता देखकर बुरी तरह बिफर गईं। इससे पहले भी पूजा सिंघल को लेकर जेल से खबर आई थी, कि उन्‍होंने जेल का खाना खाने से साफ मना कर दिया था। तब उन्‍होंने जेल में मच्‍छर काटने, साफ-सफाई नहीं रहने पर जमादार को खूब हड़काया था। ईडी कोर्ट में पेशी के बाद जेल लाई गईं पूजा सिंघल को महिला वार्ड में दूसरे बंदियों के साथ रखा गया है। यहां उन्‍हें जमीन पर बिछाने के लिए चादर दिया गया है। अब 8 जून तक पूजा सिंघल जेल में ही रहेंगी।

पहले भी एक रात जेल में गुजार चुकी हैं सिंघल
यह दूसरा मौका होगा जब पूजा सिंघल को जेल में अपना समय गुजारना होगा। इससे पहले 11 मई को गिरफ्तारी के बाद उन्हें एक रात जेल में गुजरना पड़ा था। हालांकि इस दौरान उन्होंने जेल की व्यवस्था पर सवाल उठाया था। वहां मौजूद कर्मियों को साफ-सफाई मेंटेन करने के लिए भी फटकार लगाई थी। इतना ही नहीं उन्होंने जेल में मिलने वाले नाश्ता करने से मना कर दिया था।

ईडी की कार्रवाई झेलने वाली राज्य की पहली महिला आईएएस हैं सिंघल
सिंघल राज्य की पहली महिला आईएएस अधिकारी होंगी जिनके खिलाफ ईडी की कार्रवाई इस अंजाम तक पहुंची है। इतना ही नहीं खनन लीज़ और मनी लांड्रिंग से जुड़ी जानकारियों के आधार पर उनकी मुश्किल है आने वाले समय में और भी बढ़ सकती हैं। एक तरफ जहां उनके पति अभिषेक झा के अस्पताल पल्स हॉस्पिटल पर में निवेश को लेकर अभी तक तस्वीर क्लियर नहीं है। वहीं दूसरी तरफ आय से अधिक पैसे सिंघल के अकाउंट में कैसे आए यह भी साफ नहीं हुआ है। इतना ही नहीं उनके कथित करीबियों के यहाँ हुई ईडी की रेड में बरामद संपत्ति से जुड़े कागज और निवेश की जानकारियां भी सिंघल को मुसीबत में डाल सकती हैं।

2008 से 2011 के बीच का है मामला
बता दें कि ये मामला वर्ष 2008 से 2011 के बीच का है. जिसमें मनरेगा कोष में 18 करोड़ रुपये से अधिक के कथित गबन मामले में ये कार्रवाई की गयी. इसी के तहत 6 मई को खान एवं भूविज्ञान विभाग की सचिव के साथ-साथ झारखंड राज्य खनिज विकास निगम लिमिटेड (JSMDC) की प्रबंध निदेशक पूजा सिंघल के रांची आवास सहित अन्य ठिकानों पर ईडी की टीम ने एक साथ छापेमारी की थी.

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अब तक कई लोगों से हो चुकी है पूछताछ
आपको बता कि अब तक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उनके पति अभिषेक झा, सीए सुमन कुमार और झामुमो के पूर्व नेता रवि केजरीवाल समेत कई लोगों से पूछताछ हो चुकी है. लेकिन अब तक उनके वित्तीय स्थिति के बारे में कुछ भी जानकारी हाथ नहीं लगी है

पूजा सिंघल प्रकरण मामले में कल भी ईडी ने की थी छापेमारी
गौरतलब है कि ईडी ने कल ही रांची और मुजफ्फरपुर में पूजा सिंघल के करीबी माने जाने वाले विशाल चौधरी और निशित केशरी के ठिकानों पर छापेमारी की थी. जहां से करोड़ों के दस्तावेज बरामद किये गये. जिसके बाद विशाल चौधरी को हिरासत में ले लिया गया था. हालांकि पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया गया.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News