गोवा कांग्रेस में बड़ी फूट, पूर्व CM समेत 8 विधायक BJP में होंगे शामिल !

goa congress news

सार
Goa Congress : सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के टिकट पर चुनकर आए 11 में 8 विधायकों के बीजेपी से जुड़ने की खबर है।

Goa Congress : गोवा कांग्रेस के 11 में से 8 विधायकों ने बुधवार को पार्टी छोड़ दी। सभी विधायक मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ विधानसभा पहुंचे और स्पीकर रमेश तावड़कर को अलग होने का पत्र सौंपा। गोवा भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सदानंद तनवड़े ने बताया कि सभी विधायक भाजपा में शामिल होंगे।

कांग्रेस छोड़ने वाले विधायकों में पूर्व CM दिगंबर कामत, माइकल लोबो, देलिया लोबो, केदार नाइक, राजेश फलदेसाई, एलेक्सो स्काइरिया, संकल्प अमोलकर और रोडोल्फो फर्नांनडिज का नाम शामिल है।

कामत और लोबो पर कांग्रेस ने की थी कार्रवाई
इसी साल जुलाई में कांग्रेस ने पार्टी विरोधी साजिश में शामिल होने का आरोप लगाकर दिगंबर कामत और माइकल लोबो पर कार्रवाई की थी। उस वक्त कांग्रेस टूट से बचने के लिए अपने 5 विधायकों को चेन्नई शिफ्ट कर दिया था।

2019 में कांग्रेस के 15 में 10 विधायक भाजपा में गए थे
इससे पहले 2019 में कांग्रेस के 15 में से 10 विधायक BJP में शामिल हुए थे। इसमें नेता विपक्ष चंद्रकांत कावलेकर भी शामिल थे। गोवा के CM प्रमोद सावंत ने कांग्रेस के सभी बागी विधायकों को BJP में शामिल करवाया था।

40 सदस्यीय सदन में कांग्रेस के थे 11 विधायक
बीजेपी की राज्य इकाई के प्रमुख सदानंद शेत तनावड़े ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि गोवा में कांग्रेस के आठ विधायक बीजेपी में शामिल होंगे. गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के 11 जबकि बीजेपी के 20 विधायक हैं. साल 2019 में भी इसी प्रकार कांग्रेस के 10 विधायक बीजेपी में शामिल हो गए थे.

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के साथ दिख रही फोटो में कांग्रेस के ये 8 विधायक नजर आ रहे हैं. इनमें दिगंबर कामत के अलावा माइकल लोबो, दिलायला लोबो, राजेश फळदेसाई, रुदाल्फ फर्नांडिस, अलेक्स सिक्वेरा, केदार नाईक और संकल्प आमोणकर शामिल हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत जैसा बड़ा चेहरा भी बीजेपी में जा सकता है. दिगंबर कामत के अलावा विपक्ष के नेता माइकल लोबो भी विधानसभा में मौजूद हैं और उनके भी कांग्रेस छोड़ने की खबर है. इस बीच गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत भी गोवा विधानसभा पहुंच गए हैं.

दिगंबर कामत की घर वापसी
कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में शुमार दिगंबर कामत गोवा में पार्टी का बड़ा चेहरा थे और वो लगातार चार बार कांग्रेस के टिकट से मडगांव सीट पर चुनाव जीतते आ रहे थे. इससे पहले कामत बीजेपी में ही थे. बीजेपी के उनके पुराने कार्यकाल को मिला लिया जाए तो वो लगातार 7 बार से मडगांव के विधायक चुने गए. अब कामत एक बार फिर से घर वापसी करते हुए बीजेपी में शामिल होने की तैयारी में हैं.

गोवा विधानसभा में कांग्रेस के 11 विधायक इस बार चुनकर विधानसभा पहुंचे थे. इस साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनाव से पहले भी गोवा कांग्रेस के 17 में से 15 विधायक पार्टी छोड़कर अन्य दलों में शामिल हो गए थे. और विधानसभा चुनाव आते-आते कांग्रेस के पास सिर्फ दो ही विधायक बचे रह गए थे, जिनमें से खुद एक कामत थे. इतनी बड़ी संख्या में होने वाले दलबदल के चलते कांग्रेस ने चुनावों से पहले विधायकों को दलबदल न करने की शपथ भी दिलाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News