महिला टीचर को हुआ अपनी स्टूडेंट से प्यार, कराया जेंडर चेंज और कर ली शादी

rajasthan bharatpur news

सार
मीरा को अपने ही स्कूल के स्टूडेंट कल्पना से प्यार हो गया. प्यार इतना परवान चढ़ा कि फिजिकल टीचर मीरा अपना जेंडर चेंज करा कर लड़का बन गई और अपनी स्टूडेंट कल्पना के साथ 2 दिन पहले शादी कर ली.

Viral News : राजस्थान के भरतपुर जिले के डीग कस्बे में एक लेडी पीटीआई मीरा को अपनी ही स्टूडेंट कल्पना से प्यार हो गया। दोनों के बीच 5 साल तक अफेयर चला।

बात घरवालों तक पहुंची। दोनों के घरवाले भी राजी हो गए। अपना प्यार पाने के लिए पीटीआई मीरा जेंडर चेंज कराकर आरव बन गई। तीन दिन पहले 4 नवंबर को आरव (30) और कल्पना (21) की शादी हो गई।

लिंग बदलने का फैसला किया
शादी करने का फैसला करने के बाद मीरा ने पहल की और अपना लिंग बदलने का निर्णय लिया। इसके लिए उन्होंने सर्जरी करवाई। सर्जरी के बाद मीरा आरव बन गई। इसके बाद कल्पना और आरव ने विवाह कर लिया। दिलचस्प बात यह है कि दोनों के परिवारों ने ऐतराज नहीं जताया। आरव की चार बड़ी बहनें हैं। चारों की शादी हो चुकी है।

महिला कोटे से शुरू हुई थी नौकरी
पहले मीरा और अब आरव को महिला कोटे से एक सरकारी स्कूल में शिक्षिका की नौकरी मिल गई थी। कल्पना ने भी लिंग परिवर्तन का समर्थन किया था। आरव ने कहा कि नौकरी में नाम और जेंडर बदलने से उन्हें कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

हमेशा से लगता था मैं लड़का हूं- मीरा
टीचर ने बताया, “मैं शुरू से ही जेंडर चेंज कराना चाहता था. 2012 में मैंने एक न्यूज में पढ़ा था की किसी ने जेंडर चेंज कराया है तभी से मैंने सोचा की यह सब कहां और कैसे होगा. तभी यूट्यूब के जरिये मुझे पता लगा की दिल्ली में एक डॉक्टर है जो जेंडर चेंज करने की सर्जरी करते हैं. मैं वहां गया और अपना इलाज कराया, 2019 से इलाज शुरू हुआ और लास्ट सर्जरी 2021 में हुई. मैं लड़की के रूप में पैदा हुई मगर मुझे लगता था कि मैं लड़की ना होकर लड़का हूं. इसलिए मैंने अपना जेंडर चेंज करा लिया और अपने स्टूडेंट कल्पना के साथ 2 दिन पहले शादी कर ली है. अब हमारे परिवार के लोग खुश है.”

क्या कहना है दुल्हन का
दुल्हन कल्पना ने बताया, “मेरे स्कूल में फिजिकल टीचर थी मीरा जिन्होंने मुझे 10 वीं कक्षा से ही खेल खिलाया है. मेरा खेल कबड्डी है और आज मैं जो भी हूं मेरे पति बने आरव की वजह से ही हूं. कल्पना का कहना है कि मैं शुरू से ही इनको चाहती थी और अगर यह अपनी सर्जरी नहीं भी कराते तो भी मैं इनके साथ शादी करने को तैयार थी. यह बात हमारे दिमाग में भी थी कि लोग क्या कहेंगे हम गुरु और शिष्य थे गुरु ने शिष्या से शादी कर ली. हमने अपने परिवार वालों से बात की और परिवार वाले राजी हो गए. मेरे पति ने अपना जेंडर चेंज करा लिया वह लड़का बन गई. हम दोनों में प्यार थे इसलिए 2 दिन पहले हम दोनों ने शादी कर ली.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News