हेमंत कैबिनेट ने 25 प्रस्तावों पर लगाई मुहर, एक महीने के लिए चार्टर प्लेन किराये पर लिया !

Hemant Soren Cabinet Meeting

सार
झारखंड कैबिनेट की बैठक में 55 प्रस्तावों पर मुहर लगी. इसके तहत पुरानी पेंशन योजना को लागू करने पर सहमति प्रदान की गयी. वहीं, टाना भगतों को कपड़ा खरीदने के लिए एक साल मेें आठ हजार रुपये मिलेंगे. इसके अलावा मनरेगा मजदूरों की मजदूरी बढ़ाकर 237 रुपये करने पर मुहर लगा दी गयी है.

Hemant Soren Cabinet Meeting : हेमंत कैबिनेट की बैठक में 25 प्रस्तावों पर मुहर लगी है. कैबिनेट की बैठक के बारे में कैबिनेट सचिव वंदना डाडेल ने जानकारी दी. इसमें मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी योजना की राशि 10 लाख करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी. पहले यह राशि 5 लाख रुपये थी. इसके अलावा इस योजना में कई अन्य असाध्य रोगों को भी जोड़ा गया है. इसके अलावा ओल्ड पेंशन स्कीम को भी मंजूरी दी गई है (Old pension scheme).

कैबिनेट सचिव वंदना दादेल ने जानकारी दी कि झारखंड जीएसटी विधेयक 2022 की घटनोत्तर स्वीकृति दी है. वहीं, 89 मॉडल विद्यालय में प्रतिक्षारत छात्रों का नामांकन करने की मंजूरी दी है. संशोधन के अनुसार अब निकटवर्ती प्रखंडों के स्कूलों के बच्चे भी नामांकन योग्य हो जायेंगे. इसके अलावा ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करने की भी मंजूरी दी गई है. कैबिनेट में निर्धारित एसओपी की मंजूरी दी गई और 1.9.2022 से इसे लागू माना जायेगा.

वहीं, कैबिनेट की बैठक में राज्य के वीवीआइपी के लिए एक महीने के लिए चार्टर्ड विमान मनोनयन के आधार पर किराए पर लेने की मंजूरी मिली है. झारखंड विधानसभा का एकदिवसीय विशेष सत्र 5 सितंबर को 11 बजे बुलाने का निर्णय लिया गया. चार्टर्ड विमान 31 अगस्त से एक महीने के लिए लिया गया है. इस पर झारखंड सरकार 2 करोड़ 06 लाख खर्च करेगी. यह चार्टर्ड विमान में 8+2 सीटर होगा.

गरीबों को हर महीने एक रुपया में एक किलो चना दाल
कैबिनेट ने गरीबों को एक रुपया प्रति किलो की दर से चना दाल उपलब्ध कराने के प्रस्ताव पर सहमति दी. राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम व झारखंड राज्य खाद्य सुरक्षा योजना से आच्छादित सभी परिवारों को हर महीने एक रुपया किलो की दर से एक किलो चना दाल दिया जायेगा.

मनरेगा मजदूरों की मजदूरी बढ़ कर 237 रुपये हुई
कैबिनेट ने मनरेगा मजदूरों की मजदूरी में वृद्धि करने का फैसला किया. उनकी न्यूनतम मजदूरी दर में बढ़ोतरी करने के लिए राज्य योजना से अतिरिक्त व्यय की स्वीकृति दी. अब मजदूरों को 237 रुपये प्रतिदिन मजदूरी दिये जायेंगे.

आठ नये पॉलिटेक्निक कॉलेजों का संचालन करेगा प्रेजा फाउंडेशन
कैबिनेट ने राज्य के नये पॉलिटेक्निक कॉलेजों का संचालन प्रेजा फाउंडेशन के माध्यम से करने का फैसला किया. ये कॉलेज चतरा, लोहरदगा, खूंटी, जामताड़ा, बगोदर, हजारीबाग, पलामू और गोड्डा में स्थित हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News