पूजा सिंघल मामलाः रांची में कैश गिनने की तीन मशीनें बुलाईं , मुजफ्फरपुर में भी जांच

puja singhal ed case

सार
निलंबित आईएएस पूजा सिंघल और माइनिंग घोटाला से जुड़े मामले को लेकर ईडी फिर छापेमारी कर रही है. झारखंड और बिहार में कुल 7 जगहों पर छापेमारी की जा रही है. जानकारी के अनुसार इस छापेमारी में रांची में भारी मात्रा में कैश मिला है.

ED Raid Puja Singhal Case : झारखंड कैडर की निलंबित IAS और पूर्व माइंस सेक्रेटरी पूजा सिंघल गिरफ्तार हैं. उनके सीए सुमन के यहां से 19 करोड़ से अधिक की राशि इंफोर्समेंट डाइरेक्टोरेट (ED) ने जब्त की थी. जिसे गिनने के लिए मशीन मंगानी पड़ी थी. इधर, मंगलवार को एक बार फिर से ईडी ने विशाल चौधरी, अनिल झा, दुर्गा और निशित केसरी के ठिकानों पर छापेमारी की. ईडी के द्वारा विशाल चौधरी के ठिकाने से भारी मात्रा में रुपया बरामद किया है. जिसे गिनने के लिए ईडी ने नोट गिनने वाली मशीन मंगाई. वहीं, जानकारी के अनुसार ईडी की टीम जैसे ही विशाल चौधरी के घर पहुंची वैसे ही उसने अपना आईफोन कचरे के ढेर में फेंक दिया था. मगर बताया जा रहा है कि ईडी की टीम ने इसे बरामद कर लिया.

आईएएस अफसरों का करीबी है विशाल
अशोक नगर रांची के रोड नंबर 6 में रहने वाले विशाल चौधी के बारे में कहा जा रहा है कि उसके कई आईएएस अफसरों से बेहतर संबंध हैं. वह उनका करीबी है. ब्लैक मनी को व्हाइट करने का काम करने की बात कही जा रही है. कहा जा रहा है कि झारखंड के एक टॉप ब्यूरोक्रेट्स का वह बेहद करीब है.

आईएएस के रिश्तेदार और बीजेपी विधायक के हैं करीबी
ओक फॉरेस्ट के ओनर निशित केशरी के यहां भी ईडी की टीम छापेमारी कर रही है. बताया जा रहा है कि वो झारखंड के वरीय आईएएस अधिकारी राजीव अरुण एक्का के रिश्तेदार है. इसके अलावा एक बीजेपी के विधायक के करीबी भी बताए जा रहे हैं. सूचना के अनुसार निशित केशरी के कारोबार में विधायक का भी पैसा लगता है. निशित का अरगोड़ा और पुंदाग इलाके में कई प्रोजेक्ट चल रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक ओक फोरेस्ट में झारखंड के 10 से अधिक ब्यूरोक्रेट्स के फ्लैट भी हैं. कहा जा रहा है कि इसकी भी जानकारी ईडी को मिली है. जानकारी के अनुसार विशाल चौधरी के यहां मिले लिंक के बाद ही ईडी की टीम निशित केशरी के यहां छापेमारी करने पहुंची थी. पुनदाग के फॉरेस्ट अपार्टमेंट में बने उनके कार्यालय में रखे कागजात व इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस की जांच हो रही है.

काली कमाई ऊपर तक पहुंचाने का है आरोप
ईडी की छापेमारी अनिल झा के यहां भी हो रही है. गिरफ्तार आईएएस पूजा सिंघल और खान विभाग में ऊपर तक काली कमाई पहुंचाने का आरोप अनिल झा पर ही लगा है. इतना ही नहीं अनिल को एक कंस्ट्रक्शन कंपनी में पार्टनर भी है ऐसी सूचनाएं आ रही हैं. अनिल झा के साथ उनके भाई दुर्गा झा और एक अन्य संबंधित के यहां भी ईडी के द्वारा छापेमारी किए जाने की बात कही जा रही है. हालांकि, ईडी की ओर से अभी कुछ नहीं कहा जा रहा है.

त्रिवेणी चौधरी सत्ता और पूजा के करीबी
त्रिवणी चौधरी कौशल विकास विभाग में सीनियर अफसर हैं। इन्हें सत्ता और पूजा का करीबी बताया जाता है। बताया जा रहा है कि विशाल चौधरी के ठिकाने से भारी मात्रा में नकदी बरामद हुई थी। ED ने नकदी गिनने के लिए बैंक नोट गिनने की मशीन मंगवाई है।

अवैध माइनिंग से जुड़ा मामला
सूत्रों की माने तो ये मामला अवैध माइनिंग से जुड़ा है। जिसमे विशाल चौधरी भी आरोपी है। त्रिवेणी चौधरी के बारे में बताया जा रहा है कि वे विशाल चौधरी के पिता हैं। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं नही है। इसी मामले को लेकर इनके घर पर भी रेड चल रही है। घर के मेन गेट को बंद कर दिया गया है। अंदर किसी भी बाहरी या मीडियाकर्मी को जाने की मनाही है। परिसर में पुलिस फोर्स की तैनाती है। वे भी कुछ बोलने से परहेज कर रहे हैं।

फोटो स्टेट वाला कागज मंगाया
ED के अधिकारियों ने फोटो स्टेट करने वाले कागज का बंडल बाहर से मंगवाया है। दो व्यक्ति इसे लेकर पहुंचे हैं। बाहर से ही इसे जवानों को दिया गया है। जवानों ने इस बंडल को अंदर पहुंचा दिया है। कहा जा रहा है कि इस कागज़ का फोटो स्टेट करने में इस्तेमाल किया जाएगा। चर्चा है कि टीम जेरॉक्स मशीन भी लेकर आई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News