4 बच्चों की मां पर चढ़ा इश्क का जुनून, करवा चौथ से पहले पति ने प्रेमी से कराई शादी

bhagalpur karwachouth news

सार
बिहार के रहने वाले चार बच्चों के पिता ने अपनी पत्नी की शादी उसके प्रेमी से करा दी है. यह शादी तब हुई जब सारी महिलाएं करवा चौथ की तैयारी में लगी थीं. ग़ौरतलब है कि वह प्रेमी महिला के ससुराल में आकर बना और इसी बीच उसके 4 बच्चे भी हुए.

Bihar News: बिहार के भागलपुर से करवा चौथ पर एक अनूठा मामला सामने आया है। यहां पति ने पत्नी की प्रेमी के साथ शादी करवा दी। दरअसल, करवाचौथ से पहले पत्नी ने पति से कहा कि मैं किसी और से प्यार करती हूं और उसके साथ ही रहना चाहती हूं। इसके बाद पति ने गांव के सरपंच और मुखिया को बुलाया और गांव वालों के सामने पत्नी की उसके प्रेमी से शादी करा दी।

महिला को उसके पति से 4 बच्चे भी हैं। विदाई के समय पति ने पत्नी से कहा कि तुम जाओ और खुश रहना, मैं चारों बच्चों को पाल लूंगा। चारों बच्चे की उम्र महज 2 साल से 8 साल तक है।

मामला भागलपुर जिले के सुल्तानगंज के गनगनिया गांव का है। दोनों की शादी 10 साल पहले हुई थी। 26 साल की महिला को अपने मायके में एक युवक से प्यार हो गया था। करवा चौथ से पहले उसने यह बात अपने पति को बताई थी।

10 साल पहले हुई थी शादी
पूजा बिहार में बांका जिले की रहने वाली है। 2012 में भागलपुर के गनगनिया गांव के श्रवण से उसकी शादी हुई थी। उस समय पूजा की उम्र 16 साल थी। पूजा शादी के बाद अक्सर मायके आती रहती थी। उसके पड़ोस के घर में छोटू (26) की ननिहाल थी। पांच साल पहले दोनों में अफेयर शुरू हो गया। धीरे-धीरे उनका ये प्रेम इस कदर परवान चढ़ने लगा कि महिला ने अपने चारों बच्चों को छोड़ अपने प्रेमी से शादी करने का फैसला लिया।

… और पति ने मान ली बात
पूजा ने पति श्रवण से करवा चौथ से पहले अपने अफेयर की बात बताई। उसने कहा कि वह छोटू से शादी करना चाहती है। इस पर पति ने कहा कि वह उसकी शादी छोटू से करा देगा। फिर श्रवण ने परिवार में बात कर सभी को इस शादी के लिए राजी कराया। आपसी सहमति से करवा चौथ का दिन इसके लिए चुना गया। पूजा ने भी अपने प्रेमी छोटू को गांव बुला लिया।

गुरुवार को गांव में पंचायत बुलाई गई। इसमें सरपंच और मुखिया के सामने दोनों के शादी की स्टांप पेपर पर लिखा-पढ़ी कराई गई। इस दौरान गांव के सभी लोग मौजूद रहे।

पत्नी ने कहा-संपत्ति में हिस्सा नहीं चाहिए
पूजा ने इस शादी के बाद पूरे गांव वाले के सामने कबूला है कि उसे अपने पति से कोई जायदाद नहीं चाहिए। वह ना ही कभी बच्चों को अपने पास रखने को जिद करेगी। इस पर पति ने कहा कि तुम जाओ और खुश रहना। मैं चारों बच्चों को पाल लूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News