Honour Killing: तेलंगाना में फिर सामने आया ऑनर किलिंग का मामला, साले ने सरेआम कर दी हत्या !

honour killing hydrabad

सार
नागराजू नाम के युवक ने 4 महीने पहले सैयद अश्रीन सुल्ताना उर्फ पल्लवी से प्रेम विवाह किया था. दोनों के परिवार इनकी शादी से खुश नहीं थे.

Hyderabad Honour Killing: हैदराबाद में एक मुस्लिम लड़की से शादी के बाद एक हिंदू युवक की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। घटना हैदराबाद के सरूरनगर की है, जहां नागराजू नाम के युवक को उसके ही साले ने रॉड और चाकू मारकर सरेआम मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

वारदात हुई तब नागराजू अपनी पत्नी अश्नीन सुल्ताना के साथ बाइक पर सरूरनगर की तरफ जा रहे थे। तभी तहसीलदार दफ्तर के पास दो लोगों ने बीच सड़क सबके सामने नागराजू पर रॉड और चाकू से हमला कर दिया। नागराजू के परिवार ने सुल्ताना के परिजनों पर हत्या का आरोप लगाया है। वहीं, हत्या से नाराज हिंदू संगठनों ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी भी की।

आर्य समाज मंदिर में की थी शादी
नागराजू रंगारेड्डी जिले के मरपल्ली गांव का रहना वाला था, जबकि सुल्ताना उसके पड़ोसी गांव घानापुर में रहती थी। दोनों सात साल से रिलेशनशिप में थे। लेकिन सुल्ताना का परिवार नागराजू के खिलाफ था। 31 जनवरी को नागराजू और सुल्ताना ने भागकर लाल दरवाजा इलाके में आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली और शादी के बाद सुल्ताना का नाम बदलकर पल्लवी रख दिया।

दोनों आरोपी गिरफ्तार
नागराजू एक कार शोरूम में सेल्स मैन के तौर पर काम करता था। 4 महीने पहले ही उसने सैयद अश्रीन सुल्ताना से शादी की थी। सुल्ताना ने आरोप लगाया कि उसके भाई और कुछ अन्य लोगों ने नागराजू पर हमला किया। पुलिस के मुताबिक, सुल्ताना के भाई और बहनोई को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक मृतक बिलापुरम नागराजू और उनकी पत्नी सैयद अश्रीन सुल्ताना एक ही कॉलेज में साथ पढ़ते थे। दोनों के बीच प्यार हुआ और इसी साल जनवरी में शादी कर ली थी। शादी के बाद सुल्ताना ने अपना नाम पल्लवी रख लिया। भाई इस शादी से नाराज थे संभवत: इसी वजह से हत्या की गई है। मामले की जांच जारी है।

भाजपा ने की जांच की मांग
भाजपा (BJP) ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए एक रैली की। तेलंगाना के भाजपा विधायक राजा सिंह (BJP MLA Raja Singh) ने हत्या की योजना बनाने और उसे अंजाम देने में शामिल सभी लोगों की गिरफ्तारी की मांग की है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने शुक्रवार को ट्विटर पर इस मुद्दे पर टिप्पणी की। पूनावाला ने कहा क‍ि अगर एक हिंदू पत्नी के मुस्लिम पति को उसके परिवार ने मार दिया होता तो हम जानते हैं कि अब तक क्या होगा! कांग्रेस, आप, टीएमसी, सपा इस्लामोफोबिया का आरोप लगाते हुए संयुक्त राष्ट्र पहुंच गए होंगे। लेकिन जब से हिंदू मारे गए हैं और हैदराबाद में – अपराध धर्मनिरपेक्ष है? इसलिए धर्मनिरपेक्ष चुप।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News