लाइनमैन का बदला…दरोगा ने काटा चालान तो गुस्से में पूरे थाने की उड़ा दी बिजली

line man ka chalan katna daroga ko pada mehanga

सार
UP News: बरेली के सिरौली थानाक्षेत्र में पुलिसकर्मी को बिजलीकर्मी का चालान काटना मंहगा पड़ गया. दारोगा ने यहां लाइनमैन का वाहन चेकिंग के दौरान चालान काट दिया, जिसके बाद गुस्साए लाइनमैन ने पुलिस चौकी की बिजली काट दी.

HIGHLIGHTS
चौकी इंचार्ज मोदी सिंह वाहनों की चेकिंग कर रहे थे
लाइनमैन पिंकी के पास नहीं थे बाइक के कागज
अवैध कटिया से जगमगा रही थी पुलिस चौकी

UP: उत्तर प्रदेश में अजब-गजब होता ही रहता है। यहां अगर अनोखे किस्से न सुनने में आएं तो थोड़ा अधूरा सा लगता है। इस बार एक अनोखा कारनामा हुआ यूपी के ही बरेली जिले में। यहां वाहन चेकिंग के दौरान एक पुलिस वाले ने एक बिजली विभाग के कर्मचारी का चालान काट दिया तो गुस्से में आकर उसने पुलिस चौकी की बिजली ही काट दी। पुलिस वालों के लाख मनुहार के बावजूद बिजली विभाग का कर्मचारी अपने इरादे से नहीं डिगा और बिजली काटकर ही दम लिया।

क्यों कटा लाइनमैन पिंकी का चालान
मामला बरेली जिले के सिरौली थाना क्षेत्र की हरदासपुर पुलिस चौकी का है। यहां चौकी इंचार्ज मोदी सिंह वाहनों की चेकिंग कर रहे थे कि इसी दौरान बरसेर सब स्टेशन के लाइनमैन भगवान स्वरूप उर्फ पिंकी बाइक से आ रहा था. जानकारी के अनुसार, दरोगा मोदी सिंह ने लाइनमैन को रोक लिया और बाइक के कागज दिखने को कहा। लाइनमैन ने पुलिसकर्मी कहा कि, “इस वक़्त तो कागज नहीं हैं। कुछ देर बाद घर से लेकर दिखा दूंगा।” लेकिन लाइनमैन पिंकी की इस बात से दरोगा मोदी सिंह सहमत न हुए और उन्होंने पिंकी का चालान काट दिया। जिसके बाद लाइनमैन पिंकी सिंह ने अपने अन्य साथियों को बुलाकर पुलिस चौकी की बिजली लाइन ही काट दी।

पुलिस वाले अवैध तरीके से यूज़ कर रहे थे बिजली
लाइनमैन ने जब बिजली काटी तो पुलिस भी इसका विरोध नहीं कर पाई। उसका कारण था कि पुलिस वाले अवैध बिजली इस्तेमाल कर रहे थे और बिजली कटने पर किसी तरह का कोई विरोध भी नहीं कर सके। भीषण गर्मी में पुलिस चौकी अंधेरे में रही और रात भर पुलिस वाले गर्मी में भटकते रहे। वहीं पुलिस वालों का कहना है कि उन्होंने जेई लक्ष्मीचंद्र से कई बार फोन पर बात करने की कोशिश की लेकिन बात नहीं हो पाई।

बिना कागज के बाइक चला रहा था लाइनमैन
वहीं इस मामले में पुलिस ने भी अपना पक्ष रखा है। सिरौली थाने में तैनात दरोगा मोदी सिंह ने मीडिया को अनौपचारिक रूप से बताया कि उच्च अधिकारियों के आदेश पर वाहन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था. सभी वाहन चालकों की चेकिंग की जा रही थी. लाइनमैन पिंकी के पास बाइक के कागज नहीं थे, इसलिए उसका चालान काटा गया. वहीं जब अवैध बिजली कनेक्शन को लेकर उनसे पूछा गया तो वह कोई जवाब न दे सके।

चीफ इंजीनियर ने क्या कहा
इस पूरे मामले में बिजली विभाग के चीफ इंजीनियर संजय जैन ने बताया कि, एक पुलिस चौकी की बिजली काटने का मामला उनके संज्ञान में आया है जिसकी जांच कराई जाएगी और पता लगाया जाएगा कि आखिर क्यों बिजली काटी गई। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News