पीयूष को बचा नहीं पाया पर जान देकर दोस्ती अमर कर गया इसरार, गणेश विसर्जन के दौरान हुआ हादसा

piyush and israar

सार
यह घटना उत्तर प्रदेश के ललितपुर (Lalitpur, Uttar Pradesh) जिले की है, जहां मूर्ति विसर्जन के दौरान अपने दोस्त पीयूष को तालाब में डूबता देखकर उसका दोस्त इसरार उसे बचाने के लिए तालाब में कूद गया, लेकिन इस हादसे में दोनों दोस्तों की मौत हो गई.

UP News :ललितपुर में गणेश विसर्जन के दौरान दोस्ती की अनोखी मिसाल देखने को मिली। विसर्जन के दौरान गहरे पानी में डूब रहे अपने दोस्त पीयूष (17) को बचाने की खातिर जान की परवाह किए बगैर इसरार (19) तालाब में कूद पड़ा। हालांकि, दुखद यह रहा कि दोनों की जान नहीं बच सकी।

दरअसल, यूपी के ललितपुर में गणेश विसर्जन के लिए शुक्रवार को इसरार भी पीयूष के साथ गया था। पीयूष तालाब में उतर गया। इसरार बाहर चबूतरे से विसर्जन देखता रहा। इस बीच, पीयूष गहरे पानी में चला गया और डूबने लगा। मदद की गुहार भी लगाई, लेकिन कोई नहीं पहुंचा। दोस्त को डूबते देख इसरार तालाब में कूद पड़ा। उसे तैरना नहीं आता था। हालांकि, पीयूष को नहीं बचा पाया, पर जान देकर दोस्ती अमर कर गया इसरार।

शव निकला तो पकड़े थे एक-दूसरे का हाथ
शव को बाहर निकाले जाते समय भी पीयूष के हाथ में इसरार का हाथ था। यह दृश्य देखकर वहां मौजूद हर किसी की आंखें नम हो उठीं। पीयूष और इसरार के परिवार पीढ़ियों से पड़ोसी हैं।

दोनों का शव उनके परिजनों को सौंपा गया
पीयूष और इसरार को तैरना आता था या नहीं, इस बात का अभी पता नहीं चल पाया है, लेकिन दोनों ने पानी से निकलने की काफी कोशिश की थी, लेकिन वह दोनों इसमें असफल रहे और मौत की आगोश में हमेशा के लिए समा गए. घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुँची पुलिस ने दोनों शवों को तालाब से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है. वहीं, पुलिस अधीक्षक गोपाल चौधरी ने जिला अस्पताल में पहुँचकर परिजनों को सांत्वना दी. पीयूष और इसरार दोनों बचपन के दोस्त थे और वह दोनों हमेशा साथ रहते थे. यहां तक कि मूर्ति विसर्जन करने भी इसरार पीयूष के साथ घाट पर चला गया था. दोनों की मौत के बाद दोनों के परिवारों के साथ ही पूरे इलाके में उसकी दोस्ती और उक साथ मौत को लेकर लोग चर्चा कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News