NCRB Report : देश में सर्वाधिक सांप्रदायिक दंगा झारखंड में, NCRB के ताजा आंकड़े से खुलासा !

JHARKHAND DANGA REPORT

सार
एनसीआरबी ने 2021 के क्राइम के आंकड़े जारी किए हैं, जिसके मुताबिक पूरे देश में सांप्रदायिक हिंसा के 378 मामले दर्ज हुए. जिसमें उत्तर प्रदेश में सिर्फ एक ही मामला दर्ज हुआ. जबकि महाराष्ट्र में 77, झारखण्ड में 100, बिहार में 51 और हरियाणा में 40 मामले दर्ज हुए.

NCRB Latest Record : देश में सबसे ज्यादा दंगे झारखंड में हुए हैं. राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (National Crime Records Bureau) ने वर्ष 2021 के अपराधों का आंकड़ा जारी किया है. एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार साल 2021 में पूरे देश में कुल 378 सांप्रदायिक दंगे हुए थे, इनमें से अकेले झारखंड में 100 दंगे हुए.

National Crime Records Bureau के आंकड़ों के अनुसार सांप्रदायिक दंगों के मामले में झारखंड साल 2021 में एक नंबर पर है. जबकि महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर, महाराष्ट्र में साल 2021 में 77 सांप्रदायिक दंगे हुए थे. एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार दंगों के मामले में बिहार तीसरे स्थान पर है. बिहार में साल 2021 में 51 दंगे के मामले सामने आए थे. वही हरियाणा चौथे यहां से 40 मामले सामने आए थे. राजस्थान और मध्य प्रदेश संयुक्त रूप से पांचवें नंबर पर हैं. दोनों राज्यों में 22 -22 मामले आए थे. वहीं साल 2021 में असम में 17 सांप्रदायिक दंगे से संबंधित कांड दर्ज किए गए थे. वहीं एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक साल 2021 में सामान्य दंगों की देशभर में 4166 रिपोर्ट हुई. इन आंकड़ों में 1426 मामले झारखंड में दर्ज हुए हैं.

एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक झारखंड में हुए दंगों के 80% आरोपियों की गिरफ्तारी झारखंड पुलिस के द्वारा कर ली गई थी. वहीं 20% दंगों के आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं. साल 2021 में झारखंड में दंगों के आरोप में दो हजार से ज्यादा लोगों की गिरफ्तारियां की गई थीं.

साल 2022 में भी झारखंड की राजधानी रांची सहित कई शहरों में सांप्रदायिक हिंसा के मामले सामने आए थे. राजधानी रांची में तो 10 जून को हुए सांप्रदायिक हिंसा में पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी थी. जिसमें दो युवकों की मौत हो गई थी. इस मामले की जांच अभी भी की जा रही है. हालांकि एनसीआरबी के आंकड़ों में साल 2022 का जिक्र नहीं है. एनसीआरबी के आंकड़े 1 साल पूर्व के जारी किए जाते हैं.

यौन शोषण व छेड़खानी के मामले भी कम नहीं झारखंड में
गत वर्ष यौन शोषण व छेड़खानी के मामले भी कम नहीं हुए। एनसीआरबी के आंकड़े के अनुसार पूरे देश में छेड़खानी के 46918 कांड दर्ज हुए, जिनमें सिर्फ झारखंड में 69 केस दर्ज हुए हैं, जिनमें पीड़ितों की संख्या 769 है। इसी प्रकार यौन शोषण से संबंधित 17107 कांड पूरे देश में दर्ज हुए, जिनमें सिर्फ झारखंड में 148 केस दर्ज हुए हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News