झारखण्ड : स्क्रैप पड़े कार्टुन और कुछ इलेक्ट्रॉनिक सामान से बनाया “सुपरमैन”

Superman" made from scrap cartoons

गोड्डा : झारखण्ड में गोड्डा जिले के महगामा प्रखंड क्षेत्र के युवा इंजीनियर दीपांशु ने सुपरमैन और कृष से प्रभावित होकर नई तकनीकी से हवा में उड़ने वाला सुपरमैन बनाकर विज्ञान की दुनिया में खलबली मचा दी है। जिले के छोटे गांव में पैदा हुए दीपांशु ने अपनी दुकान में स्क्रैप पड़े कार्टुन और कुछ इलेक्ट्रॉनिक समानों से तैयार सुपरमैन को जब आकाश में उड़ाकर उसका परीक्षण किया तो लोग हैरान हो गए। और अपने युवा इंजीनियर के हुनर को सलाम करने लगे। दीपांशु का दावा है कि रिमोट कंट्रोल से उड़ने वाला ये सुपरमैन आसमान में पक्षियों से भी अधिक तेज करीब 80 KM/h की रफ्तार से उड़ सकता है। दीपांशु की प्रतिमा पर महगामा समेत पूरा संताल परगना के लोग अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

सुपरमैन और कृष को खुले आकाश में उड़ते देख मन बनाया !

वहीं दीपांशु कहते हैं कि, वे बचपन से फिल्मों में सुपरमैन और कृष जैसे फिल्मो को खुले आसमान में उड़ते देखते थे। उसी वक़्त से उसने इसी तरह आसमान में उड़ने का सपना देखा। दीपांशु के मन में सपना था कि वह भी एक दिन इसी तरह खुले आकाश में उड़ेगा हालांकि उसका यह सपना पूरा नहीं हो पा रहा था। लेकिन वह अब अपने हौसले को मुकाम देने के कोशिश में जुटा रहा।

पिता की इलेक्ट्रॉनिक दुकान में बेकार पड़े उपकरणों से मिली सफलता

इंजीनियरिंग की पढ़ाई के क्रम में ही अपने सपनों को नई उड़ान देने की दिशा में उसने कदम बढ़ाना शुरू कर दिया। इसलिए कुछ ही दिनों में वे अपने कोशिश को सरजमीं पर उतारने में सफल हो गए। दीपांशु के पिता महगामा में इलेक्ट्रिक समान की दुकान चला कर अपने परिवार चलाते हैं। इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद दीपांशु जब घर आया तो उसने अपने इलेक्ट्रिक की दुकान के बेकार पड़े कार्टून, वाशिंग मशीन, फ्रिज सहित कुछ अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और लकड़ी से रिमोट कंट्रोल से उड़ने वाला सुपरमैन तैयार कर लिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News