हज़ारीबाग़ में गर्भवती महिला को ट्रैक्टर से कुचलने के मामले में RBI ने महिंद्रा फाइनेंस को दिया झटका !

RBI ON MAHINDRA FINANCE

Hazaribagh News : RBI ने महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड को आउटसोर्सिंग रिकवरी एजेंटों के हायर करने पर रोक लगा दी है। दरअसल, कंपनी के एक एजेंट ने बकाया वसूली के लिए झारखंड के हजारीबाग में एक गर्भवती महिला को कथित तौर पर ट्रैक्टर से कुचलकर मार दिया था। जिसके बाद रिजर्व बैंक ने कंपनी को यह सख्त निर्देश जारी किया है। हजारीबाग की स्थानीय पुलिस ने मीडिया को बताया कि रिकवरी के लिए पीड़िता के घर जाने से पहले फाइनेंस कंपनी के अधिकारियों ने स्थानीय पुलिस स्टेशन को सूचित नहीं किया था।

ट्रैक्टर से कुचलने का पूरा मामला 

DSP मनोज रतन चोठे ने ANI से बात करते हुए बताया कि किसान ने महिंद्रा फाइनेंस कंपनी से लोन लेकर ट्रैक्टर लिया था. किसान लोन नहीं चुका पाया था इसलिए कंपनी के एजेंट ट्रैक्टर जब्त करने किसान के घर गए थे. कुछ देर बाद एजेंट्स और किसान के बीच कहासुनी हो गई. एजेंट्स ट्रैक्टर को ले जाने लगे तो किसान की बेटी ट्रैक्टर के सामने आ गई जिससे वो ट्रैक्टर को लेकर न जा सकें. लेकिन एजेंट ने पीड़िता पर ट्रैक्टर चढ़ा दिया. DSP ने आगे कहा,

“रिकवरी एजेंट और महिंद्रा फाइनेंस कंपनी के मैनेजर समेत चार लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है.”

लड़की के एक रिश्तेदार ने ANI से बात करते हुए बताया कि महिंद्रा फाइनेंस कंपनी के एजेंट बिना बताए उनके घर आ गए थे. उन्होंने आगे कहा,

पीड़िता ट्रैक्टर के सामने खड़ी थी और जब बहस हुई तो उन्होंने उसे कुचल दिया. बाद में उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.”

ख़बर के मुताबिक हजारीबाग की पुलिस ने बताया कि महिंद्रा फाइनेंस कंपनी के एजेंट्स ने ट्रैक्टर की जब्ती करने से पहले पुलिस को नहीं बताया था. घटना के बाद कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एक्जीक्यूटिव अनीश शाह ने कहा कि कंपनी सभी पहलुओं की जांच करेगी. उन्होंने कहा कि,

“हम हजारीबाग की घटना से बहुत दुखी हैं. हम इस मामले की गहनता से जांच करेंगे.”

उन्होंने मामले की जांच में सहयोग का आश्वासन भी दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News