Mulayam Singh Yadav Funeral: अखिलेश के गले लग फूट-फूटकर रोए भाजपा नेता, अंतिम दर्शन को सैफई में उमड़ा जनसैलाब

MULAYAM SINGH FUNERAL

सार
सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के अंतिम दर्शन करने सीएम हेमंत सोरेन उत्तर प्रदेश के सैफई पहुंचे. यहां उन्होंने मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि देते हुए उनके पुत्र सह यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव से मिलकर शोकाकुल परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की.

Mulayam Singh Yadav Funeral : मुलायम सिंह यादव का मंगलवार को अंतिम संस्कार किया गया। बेटे अखिलेश यादव ने सैफई के मेला ग्राउंड पर उन्हें मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार के लिए मुलायम की पार्थिव देह पहली पत्नी मालती के मेमोरियल के पास बने प्लेटफॉर्म पर रखी गई थी।

राजकीय सम्मान के साथ हुए अंतिम संस्कार में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मौजूद थे। कई राज्यों के मुख्यमंत्री, उप-मुख्यमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री भी पहुंचे। बेहद करीबी माने जाने वाले अमिताभ बच्चन के बेटे अभिषेक बच्चन मां जया के साथ पहुंचे। सहारा चीफ सुब्रत राय और उद्योगपति अनिल अंबानी और झारखण्ड के सीएम हेमंत सोरेन ने भी अंतिम दर्शन किए।

लाखों कार्यकर्ताओं ने लगाया नारा- नेताजी अमर रहें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में 3 दिन के शोक की घोषणा की है। वे सोमवार को ही सैफई पहुंचे थे और मुलायम के अंतिम दर्शन किए। बिहार में भी एक दिन का राजकीय शोक था।

मेदांता में सोमवार सुबह 8:16 बजे निधन के बाद जब नेताजी का शव सैफई लाया गया तो घर पर हजारों कार्यकर्ता जमा हो गए। रात से लेकर सुबह तक नारे लगते रहे- नेताजी अमर रहें। फिर सुबह पार्थिव देह मेला ग्राउंड लाई गई ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग मुलायम सिंह के अंतिम दर्शन कर सकें। यहां लाखों की तादाद में लोग पहुंचे। मेला ग्राउंड ही नहीं, पूरे सैफई में पैर रखने की जगह नहीं दिखाई दे रही थी।

अखिलेश के गले लगकर रोए वरुण गांधी
इनके अलावा सपा सांसद जया प्रदा, अभिनेता अभिषेक बच्चन, उद्योगपति अनिल अंबानी, सुब्रत राय सहारा, भाजपा सांसद वरुण गांधी, राजनेता शरद यादव, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल व योग गुरु बाबा रामदेव ने भी समाजवादी नेता के अंतिम दर्शन कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। भाजपा सांसद वरुण गांधी अखिलेश के गले लगकर रोए।

अभी तक डेढ़ लाख से ज्यादा लोग पहुंचे सैफई
समाजवादी पार्टी के संस्थापक व पूर्व रक्षामंत्री ‘धरतीपुत्र’ मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि देने के लिए सैफई में जनसैलाब उमड़ पड़ा। बताया जा रहा है कि अभी तक लगभग डेढ़ लाख लोग पहुंच चुके हैं।

सपा संरक्षक की अंतिम यात्रा में लोग सभी अपने नेता का अंतिम दर्शन करने के लिए बेताब नजर आए। लोगों में एक-दूसरे को धकेलकर आगे बढ़ने की होड़ मची रही।

श्रद्धांजलि देने के लिए कतारों में रहे आम और खास लोग
मंच पर सांसद से लेकर विधायक और यहां तक कि बड़े नेता भी लाइन में रहे। जिनमें यूपी के दोनों उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, बृजेश पाठक, केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद, राज्य मंत्री असीम अरुण, सांसद रीता बहुगुणा जोशी, देवेंद्र सिंह भोले, आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडु ने भी लाइन में लगकर ही मंच श्रद्धाजंलि अर्पित की।

बेतहाशा भीड़ से पंडाल में बेहोश हुए लोग
लोगों में नेताजी की आखिरी बार देखने की ऐसी लालसा थी कि पंडाल में लगे खंभे पर चढ़ गए और फोटो खींचते रहे वीडियो बनाते रहे। भीड़ बढ़ने से मची अफरा-तफरी और उमस से पंडाल में तीन-चार लोग बेहोश हो गए। आनन-फानन उन्हें एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News