मुश्किल में अजय देवगन की फिल्म Thank God, कायस्थ समाज नाराज, एक्टर का फूंका पुतला

ajay devganh thank god protest

सार
अजय देवगन ने भगवान चित्रगुप्त का मखौल उड़ाते हुए उनको, उनके मूल स्वरूप से अलग सूटबूट में अर्धनग्न स्त्रियों के साथ खड़े होकर घटिया चुटकुलों प्रयोग करते हुए आपत्तिजनक शब्दों का फिल्म में प्रयोग किया है. इस वजह से फिल्म ‘थैंक गॉड’ का व‍िरोध शुरू हो गया है.

अजय देवगन की आने वाली फिल्म ‘थैंक गॉड’ (Thank God) मुश्किलों में फंसती दिख रही है। फिल्म का ट्रेलर जब से आया इसका विरोध किया जा रहा है। फिल्म पर कथित तौर पर धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप लग रहे हैं। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के सिविल लाइन थाने में छत्तीसगढ़ कायस्थ समाज के लोगों ने फिल्म के कलाकार और निर्माताओं के खिलाफ शिकायत की है। समाज के लोगों ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर चित्रगुप्त और हिंदू धर्म के भगवान यम का मजाक कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। समाज के लोगों ने अजय देवगन का पुतला भी फूंका।

कायस्थ समाज के संजय श्रीवास्तव ने कहा कि एक फिल्म का निर्माण हुआ है, जिसका ट्रेलर अभी यूट्यूब चैनल पर दिखाया जा रहा है। उस फिल्म का नाम ‘थैंक गॉड’ है। उसमें चित्रगुप्त का किरदार कलाकार अजय देवगन ने निभाया है। फिल्म के माध्यम से कायस्थ समाज के आराध्य देव हैं, ईष्ट देव हैं का अपमान किया गया है। भगवान श्री चित्रगुप्त का अपमान उस फिल्म में दिखाया जा रहा है। हमारे ईष्टदेव का वस्त्र अलग होता है। उनको शूटबुट में दिखा करके स्त्रियां उनके साथ नाचती दिखाई जा रही है। चुटकुले और गलत प्रकार के संवाद उनके मुख से फिल्म में प्रसारित किया जा रहा है। समाज ने कहा कि सेंसर बोर्ड फिल्म को सर्टिफिकेट न दें, क्योंकि इससे धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।

पुल‍िस की को गई श‍िकायत
कांकेर एसपी सलभ सिन्हा को शिकायत पत्र सौंपते हुए कायस्थ समाज के लोगों ने मांग रखी है कि फिल्म एक्टर अजय देवगन, फिल्म निर्देशक इंद्रकुमार और फिल्म के निर्माता टी सीरीज और मारुति इंटरनेशनल के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 295 ए के अंतर्गत कार्रवाई करते हुए विवादित चित्रण को इंटरनेट से तुरंत हटाया जाय जिससे सम्पूर्ण कायस्थ समाज को न्याय मिल पाए.

रायपुर में हुआ व‍िरोध
इस बात से नाराज रायपुर कायस्थ समाज आज स्थानीय धरना स्थल बूढ़ा तालाब के पास राजधानी रायपुर में फिल्म के कलाकार अजय देवगन का पुतला दहन किया. कायस्थ समाज के प्रमुख नेता संजय श्रीवास्तव नें कहा कि 25 सितंबर को फिल्म रिलीज़ हो रही है. अगर फिल्म से आपत्तिजनक चित्रित संवाद और दृश्य हटाए नहीं गये तो फिल्म को थिएटर्स में प्रदर्शित नहीं होने देंगे. साथ ही आपत्ति स्वरूप पुलिस और सरकार को विज्ञप्ति सौंपकर उचित कार्रवाई की मांग की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News