अब नमक भी होने वाला है महंगा! कंपनी ने कहा- मजबूरी में लेना पड़ा फैसला!

TATA SALT NEWS

TATA SALT PRICE HIKE : टाटा नमक की कीमतें बढ़ने वाली है। अभी इसके एक किलो नमक की कीमत 28 रु. है। लगातार बढ़ती महंगाई से कंपनी के मार्जिन पर असर पड़ रहा हैं जिस कारण टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ने कीमतें बढ़ाने का फैसला लिया है। हालांकि दाम कब से बढ़ाए जाएंगे इसकी जानकारी अभी सामने नहीं आई है। एक बिजनेस न्यूज चैनल से बातचीत में कंपनी के MD और CEO सुनील डिसूजा ने इसकी जानकारी दी।

टाटा कंज्यूमर के सीईओ ने दिए संकेत
टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स (Tata Consumer Products) के एमडी और सीईओ सुनील डिसूजा (Sunil D’souza) ने एक साक्षात्कार के दौरान टाटा नमक (Tata Salt) की कीमत बढ़ाने के संकेत दिए हैं. उन्होंने कहा कि टाटा के नमक पर महंगाई का दबाव लगातार बना हुआ है. ऐसे में मार्जिन को प्रोटेक्ट करने के लिए हम नमक की कीमत बढ़ाने की तैयारी कर रहे हैं.

Energy कॉस्ट में इजाफा बड़ी वजह
डिसूजा ने बताया कि नमक की कीमत दो कंपोनेंट पर आधारित होती है. इनमें पहला ब्राइन और दूसरी एनर्जी. ब्राइन की कीमत फिलहाल स्थिर बनी हुई है, लेकिन एनर्जी कॉस्ट उच्च स्तर पर पहुंच गई है. इस वजह से नमक के मार्जिन ( Margin) पर दबाव देखने को मिल रहा है. टाटा कंज्यूमर के सीईओ के मुताबिक, यह सबसे बड़ा कारण है कि कंपनी ने टाटा नमक की कीमतों में बढ़ोतरी की योजना बनाई है.

रसोई का बजट बिगाड़ेगा नमक
हालांकि, टाटा कंज्यूमर के सीईओ ने इस बात का कोई खुलासा नहीं किया है कि नमक की कीमतों में कितनी बढ़ोतरी होगी और कब तक होगी. अभी टाटा नमक (Tata Salt) का एक किलो का पैकेट बाजार में 28 रुपये का मिलता है. सबसे ज्यादा बिकने वाले इस नमक के महंगे होने से पहले से महंगाई की मार झेल रहे लोगों की रसोई के बजट को और बिगाड़ने वाला साबित होगा.

कंपनी का मुनाफा 38 फीसदी बढ़ा
बुधवार को ही टाटा कंज्यूमर ने पहली तिमाही के नतीजों (Tata Consumer Q1 Results) का ऐलान किया है. जून तिमाही में कंपनी का मुनाफा सालाना आधार पर 38 फीसदी बढ़कर 255 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. बहरहाल, कंपनी के सीईओ के टाटा नमक की कीमतें बढ़ाने के सिग्नल ने खाने का स्वाद बिगड़ना तय है.

फूड-बेवरेज बिजनेस का अच्छा परफॉर्मेंस
टाटा कंज्यूमर ने बुधवार को अपनी पहली तिमाही के नतीजे घोषित किए हैं। फूड और बेवरेज बिजनेस ने अच्छा परफॉर्म किया है। चाय के बिजनेस के अच्छे प्रदर्शन ने नमक के इंप्लेशनरी प्रेशर को ऑफसेट किया है। जून तिमाही में प्रॉफिट सालाना आधार पर (YoY) 38% बढ़कर 255 करोड़ रुपए हो गया, जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह 240 करोड़ रुपए था।

कंपनी का मैसिव एक्सपेंशन प्लान
CEO ने कहा, कंपनी का फोकस अब वॉल्यूम पर है। कंपनी का शहरी और ग्रामीण दोनों इलाकों में मैसिव एक्सपेंशन प्लान है। टाटा कंज्यूमर का शेयर गुरुवार को लगभग 2% गिरकर 775 रुपये प्रति शेयर के करीब कारोबार कर रहा है। पिछले एक महीने में इसमें 1.51% और इस साल अब तक 4.55% की तेजी आई है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News