Patna में बनेंगे 12 अंडरग्राउंड Metro Station, कहां-कहां से गाड़ी पकड़े सकेंगे यात्री !

patna underground metro station

सार
पटना मेट्रो के एक दर्जन स्टेशन भूमिगत होंगे। अंडरग्राउंड मेट्रो के रूट पर सबसे पहले उन जगहों को चिह्नित कर घेराबंदी की जा रही है। तकनीकी कार्य पूरा होने के बाद यहां स्टेशन का निर्माण शुरू हो जाएगा।

पटना : राजधानी पटना में मेट्रो ट्रेन (Patna Metro Train Update) की सर्विस जल्द शुरू करने को लेकर तैयारियां जोरों से चल रही है। राजधानी में तीन अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन का निर्माण जल्द शुरू होने जा रहा। ये स्टेशन गांधी मैदान के पास स्थित बापू सभागार, पीएमसीएच और पटना यूनिवर्सिटी पर बनेंगे। यही नहीं जानकारी के मुताबिक, पटना मेट्रो (Patna Metro) के पहले और दूसरे कॉरिडोर में कुल 24 स्टेशन बनेंगे। इसमें 12 मेट्रो स्टेशन भूमिगत यानी अंडरग्राउंड (Patna Metro Underground Station) होंगे, बाकी एलिवेटेड बनाए जाएंगे। इसमें कई को लेकर मिट्टी की टेस्टिंग और इंजीनियरिंग वर्क से जुड़े काम शुरू हो गया है।

ये मेट्रो स्टेशन होंगे अंडरग्राउंड
दिल्ली मेट्रो की तर्ज पर पटना में भी मेट्रो के स्टेशन अंडरग्राउंड और एलिवेटेड बनाए जाएंगे। जाम से बचाव के लिए ऐसा फैसला लिया गया है। जानकारी के मुताबिक, राजधानी के 12 मेट्रो स्टेशन अंडरग्राउंड और इतने ही स्टेशन जमीन से ऊपर यानी एलिवेटेड बनाने की योजना है। कॉरिडोर-1 में दानापुर से खेमनीचक के बीच रुकनपुरा, विकास भवन, विद्युत भवन, राजा बाजार, चिड़ियाघर, पटना रेलवे जंक्शन पर अंडर ग्राउंड स्टेशन बनेगा।

कॉरिडोर-2 में यहां बनेंगे भूमिगत मेट्रो स्टेशन
कॉरिडोर-2 में पटना स्टेशन से न्यू ISBT के बीच आकाशवाणी, गांधी मैदान, पीएमसीएच, पटना यूनिवर्सिटी, मोइनुल हक स्टेडियम, राजेंद्र नगर में भी अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन बनाने की प्लानिंग है। पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट का गांधी मैदान से पटना जंक्शन और पाटलिपुत्र बस टर्मिनल के बीच कॉरिडोर II एक मील का पत्थर माना जा रहा। अधिकारियों के मुताबिक, कॉरिडोर II के भूमिगत खंड के निर्माण के लिए टेंडर पिछले साल दिसंबर में जारी किया गया, और शुरुआती काम पहले ही शुरू हो चुका है।

31 KM लंबे पटना मेट्रो रेल परियोजना की तैयारी तेज
मेट्रो के प्रस्तावित पीएमसीएच स्टेशन (Patna PMCH Metro Station) का भी भूमिगत निर्माण किया जाएगा, जिसे पहले जमीन के ऊपर बनाने का प्रस्ताव रखा गया था। स्टेशन परिसर के अंदर प्रवेश या निकास के लिये दो गेट होंगे। जानकारी के मुताबिक, 31 किलोमीटर लंबी पटना मेट्रो रेल परियोजना (Patna Metro Rail Project) से बिहार की राजधानी में 10 लाख से अधिक यात्रियों को फायदा होगा। इस परियोजना में दानापुर-मीठापुर-खेमनी चक कॉरिडोर (लाइन -1) और पटना रेलवे स्टेशन-पाटलिपुत्र बस टर्मिनल कॉरिडोर (लाइन -2) शामिल हैं।

सगुना मोड़ के पास एलिवेटेड रूट का काम शुरू
मलाही पकड़ी से न्यू आइएसबीटी के बीच बनने वाले एलिवेटेड रूट के बाद अब पटना दानापुर से पाटलिपुत्र स्टेशन के बीच बनने वाले रूट पर भी काम शुरू हो गया है। इस रूट के 14 स्टेशनों में दानापुर से पाटलिपुत्र तक के पहले चार और मीठापुर से खेमनीचक तक अंतिम चार स्टेशन एलिवेटेड रहेंगे। इस कारिडोर के अंडरग्राउंड रूट पर काम की शुरुआत जाइका से ऋण मिलने के बाद होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News