ब्रिटेन के पीएम Rishi Sunak की कोर टीम में झारखंड के Prajwal Pandey !

jharkhand prajawal pandey

सार
भारतीय मूल के पहले ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने अपनी कोर टीम की घोषणा की है. इसमें धनबाद सिंदरी के रहने वाले प्रज्वल पांडेय भी शामिल किये गये हैं. वह सिंदरी के रिटायर्ड पीडीआइएल कर्मी बागीश दत्त पांडेय का पोता है.

Dhanbad : भारतीय मूल के ऋषि सुनक ब्रिटेन के नए पीएम चुने गए। सुनक की जीत में एक और भारतीय खूब चमका, झारखंड के धनबाद का 19 वर्षीय प्रज्‍ज्‍वल। अपनी बहुमुखी प्रतिभा की बदौलत प्रज्‍ज्‍वल ऋषि सुनक की कोर कैंपेन टीम का सदस्य चुना गया और चुनाव में सुनक की जीत में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई।

प्रज्‍ज्‍वल के दादा बागीश दत्त पांडेय पीडीआइएल सिंदरी से सेवानिवृत्‍त हुए हैं। उनके बड़े पुत्र राजेश पांडेय का पुत्र है 19 वर्षीय प्रज्ज्‍वल पांडेय। प्रज्‍ज्‍वल ने चुनाव में ब्रिटेन के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री ऋषि सुनक के 30 सदस्यीय कोर कैंपेन टीम का हिस्‍सा बनकर टैक्स, आय, शिक्षा, विदेश, डिफेंस नीतियों पर सुनक के विचार ग्रेट ब्रिटेन की जनता के बीच रखे और उन्‍हें खूब प्रभावित किया।

प्रज्ज्‍वल पांडेय के पिता राजेश पांडेय ब्रिटेन में डिफेंस सेक्टर में कार्यरत हैं। माता मनीषा पांडेय ब्रिटेन में ही शिक्षिका हैं। प्रज्ज्‍वल की बडी बहन प्रांजल कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से मेडिकल की पढ़ाई कर रही हैं। राजेश पांडेय ने एसेक्स से फोन पर बातचीत करते हुए बताया कि प्रज्ज्‍वल 2019 में यूके यूथ पार्लियामेंट के लिए रिकॉर्ड वोटों से निर्वाचित हुआ था। ब्रिटिश संसद में उसने यूथ पार्लियामेंट के सदस्य के रूप में भाषण भी दिया है।

बताया कि प्रज्ज्‍वल 2019 में चेम्सफोर्ड यूथ स्ट्रेटेजी ग्रुप का वाइस चेयरमैन निर्वाचित हुआ। 2020 में वह एसेक्स क्लाइमेट एक्शन कमिशन का को चेयरमैन चुना गया। इस बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के चुनाव के पहले कंजरवेटिव पार्टी ने कोर कैंपेन टीम के लिए आवेदन पत्र मांगा था। प्रज्ज्‍वल ने ऑनलाइन आवेदन किया और इस टीम के लिए उसका चयन हो गया। इसके साथ ही प्रज्ज्‍वल ऋषि सुनक की 30 सदस्यीय कोर कैंपेन टीम का सदस्य बन गया।

ब्रिटेन के प्रतिष्ठित नीति सलाहकारों के साथ किया काम
पिता ने बताया कि चुनाव में कैंपेनिंग के दौरान प्रज्ज्‍वल ने ऋषि सुनक के लिए देश के प्रतिष्ठित नीति सलाहकारों के साथ काम किया। बताया कि कैंपेन के दौरान प्रज्ज्‍वल को स्वयं ऋषि सुनक, ब्रिटेन संसद के सदस्य और मंत्रिमंडल के सदस्य दिशा-निर्देश देते थे।

फिलहाल प्रज्‍ज्‍वल प्लस टू की पढ़ाई कर रहा है। 19 वर्ष की उम्र में ही उसने कामयाबी के जो झंडे गाड़े, उससे केवल ब्रिटेन, बल्कि पूरी दुनिया में भारतीयों का झंडा बुलंद हो गया। सिंदरी में रह रहे दादा और अन्‍य स्‍वजन भी पोते की उप‍लब्धि से उत्‍साहित ह‍ैं।

ऋषि सुनक की टीम में कई वरिष्ठ नीति- सलाहकारों के साथ काम किया
ऋषि सुनक ने प्रज्वल को उनकी पार्टी की ओर से मुख्य अभियान टीम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था. तब प्रज्वल ने ऋषि सुनक की टीम में कई वरिष्ठ नीति- सलाहकारों के साथ काम किया. प्रज्वल पांडेय साल 2019 में मात्र 16 साल की उम्र में ब्रिटेन के कंजरवेटिव पार्टी में सदस्य के रूप में शामिल हुए थे.

प्लस टू की पढ़ाई कर रहा है प्रज्‍ज्‍वल
इससे पहले वे साल 2019 में यूके यूथ पार्लियामेंट के निर्वाचित सदस्य चुने गये तथा युवा संसद सदस्य के रूप में ब्रिटिश संसद में पहली बार भाषण दिया था. उनकी बहन प्रांजल पांडेय कैंब्रिज यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही हैं. प्रज्वल की मां मनीषा पांडे रांची स्थित गौरी शंकर नगर डोरंडा की निवासी हैं. फिलहाल प्रज्‍ज्‍वल प्लस टू की पढ़ाई कर रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News