पाकिस्तान को नहीं ‘लाल सिंह चड्ढा’ से परेशानी, हो रही है रिलीज की तैयारी!

pakistan laal singh chadha film release

सार
2019 में भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव के बाद पड़ोसी मुल्क में कोई भी बॉलीवुड मूवी रिलीज नहीं हुई है. पाकिस्तान में सिर्फ हॉलीवुड और रीजनल फिल्में ही चल रही हैं. इस बीच खबर आ रही है कि पाक में आमिर खान की फिल्म रिलीज होने जा रही है.

Laal Singh Chaddha Releasing In Pakistan: साल 2019 में सरकार ने पाकिस्तान में इंडियन कॉन्टेंट पर रोक लगा दी थी। उस वक्त भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने को लेकर तनाव बढ़ रहा था। तब से, पाकिस्तान में कोई बॉलीवुड फिल्म रिलीज़ नहीं हुई है। सिनेमाघरों में हॉलीवुड और दूसरी फिल्में चल रही हैं। इसलिए, जब आमिर खान की अगली पेशकश ‘लाल सिंह चड्ढा’ के पाकिस्तान में रिलीज़ होने की अफवाह वायरल हुई, तो इसने सभी को चौंका दिया।

पाकिस्तान में लाल सिंह चड्ढा रिलीज!
इस मुद्दे के बारे में सामने आई जानकारी से पता चलता है कि फिल्म (Laal Singh Chaddha) को पाकिस्तान में 11 अगस्त को रिलीज करने की प्लानिंग हो रही थी। फिल्म को पैरामाउंट पिक्चर्स पूरी दुनिया में बेच रहा है और पाकिस्तान भी इनमें से एक है। सिनेपैक्स मीडिया ग्रुप के महाप्रबंधक साद बेग ने ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ को बताया कि उन्होंने सूचना मंत्रालय को लाल सिंह चड्ढा के लिए एक एनओसी जमा कर दी है। साद ने कहा, ‘हमने सूचना मंत्रालय के साथ एनओसी के लिए आवेदन किया है। अगर हमें एनओसी मिलती है, तो फिल्म पाकिस्तान में रिलीज होगी।’

फिल्म रिलीज होगी या नहीं?
जबकि सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (सीबीएफसी) और सिंध बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने पाकिस्तान में ऐसी किसी भी रिलीज से इनकार किया है। सूचना मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान में लाल सिंह चड्ढा की रिलीज के लिए एक एनओसी जमा किया गया है। वो बोले- हमारी नीति एक जैसी है। कोई भी भारतीय फिल्म या भारत में बना कोई भी प्रोजेक्ट देश में रिलीज़ नहीं होगा। सूत्र ने कहा, ‘लाल सिंह चड्ढा एक इंडियन फिल्म है और हमारी नीति का पालन करते हुए मंत्रालय ने पाकिस्तान में भारतीय फिल्म की रिलीज के लिए कोई एनओसी जारी नहीं की।’

पाकिस्तान में रिलीज होने के चांसेज
सिंध सेंसर बोर्ड के एक सूत्र ने बताया, ‘हमें कोई अनुरोध नहीं मिला है। एक बार फिल्म को सूचना मंत्रालय से मंजूरी मिलनी है, फिर सीबीएफसी से। दोनों से मंजूरी मिलने के बाद इसे समीक्षा के लिए बोर्डों को प्रस्तुत किया जाता है।’ जबकि सूचना मंत्रालय और सेंसर बोर्ड के उठाए गए मुद्दे काफी साफ हैं। इंडस्ट्री के अंदरूनी सूत्रों का मानना है कि इस बात की काफी संभावना है कि फिल्म वास्तव में पाकिस्तान में रिलीज हो सकती है। सूत्र ने कहा, ‘लाल सिंह चड्ढा के डीसीपी पहले से ही यहां हैं और फिल्म को गुजरांवाला जैसे आसपास के जगहों के सिनेमाघरों में पहले ही डाला जा चुका है।’

NOC के बाद फिल्म को रिलीज करना आसान
सूत्र ने आगे बताया, ‘यह कराची, लाहौर और इस्लामाबाद में अभी तक नहीं हुआ है। इसका शायद मतलब यह हो सकता है कि आसपास की जगहों के सिनेमाघरों में फिल्म को रिलीज करने का कारण यह है कि एक बार एनओसी जारी होने के बाद फिल्म को कराची, लाहौर और इस्लामाबाद में तुरंत रिलीज करना काफी आसान है।’

पाकिस्तानी PM ने लगाया था रोक
2019 में प्रधानमंत्री की सूचना पर विशेष सहायक डॉ फिरदौस आशिक अवान ने एक ट्वीट में कहा था कि देश के सिनेमाघरों में भारतीय फिल्मों पर रोक लगा दी गई है। उन्होंने कहा था, ‘किसी भी पाकिस्तानी सिनेमा में कोई भी भारतीय फिल्म नहीं दिखाई जाएगी। पाकिस्तान में इस तरह के नाटक, फिल्मों और भारतीय कॉन्टेंट पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News