Rajrappa News : मात्र छह महीने की तैयारी… पहला प्रयास और यूपीएससी पास… सुनिए रजरप्पा की बेटी दिव्या पांडे की कहानी

rajrappa divya pandey ias

सार
UPSC Success Story Divya Pandey रांची वीमेंस कालेज से एमबीए की पढ़ाई करने वाली गोरखपुर की दिव्या पांडे प्रथम प्रयास में ही यूपीएससी पास हो गई हैं। महज छह महीने की मेहनत में उन्होंने यह सफलता हासिल की है। बचपन से ही यूपीएससी पास करने का सपना था।

UPSC Result 2022: रामगढ़ जिला के रजरप्पा थाना क्षेत्र अंतर्गत सीसीएल रजरप्पा के रिटायर्ड क्रेन ऑपरेटर जगदीश पांडे की पुत्री दिव्या पांडे UPSC में सफल रहीं. इसे लेकर पूरे रामगढ़ में खुशी की लहर है. दिव्या की प्रारंभिक परीक्षा डीएवी रजरप्पा से हुई है, फिर, रांची विमेंस कॉलेज से बीबीए करने के बाद वो यूपीएससी की तैयारी में जुट गयी. बिना किसी कोचिंग संस्थान के मदद दिव्या को यह सफलता मिली है. दिव्या पांडे ने पहले ही प्रयास में ही यूपीएससी में सफल रही. उन्हें 323 वां रैंक मिला है. दिव्या पांडे दो बहन और एक भाई में सबसे छोटी हैं.

बिना कोई टेंशन और बिना कोई कोचिंग कर गईं पास
दिव्या ने बताया कि मात्र छह महीने की तैयारी से ही उन्होंने यह सफलता अर्जित की है। तीन भाई बहनों में बड़ी बहन भी यूपीएससी की तैयारी कर रही है। जबकि छोटा भाई इंजीनियरिंग की तैयारी में लगा हुआ है। दिव्या की माता मनोरमा पांडेय हाउस वाइफ है। दिव्या ने इस सफलता का श्रेय माता-पिता तथा सभी परिवार के लोगों को देती हैं। उनका कहना है कि बिना कोई टेंशन और बिना कोई कोचिंग के यह मैंने पहली बार में ही यह यूपीएससी का एग्जाम दिया और सफल भी रही। आगे मुझे जो भी जिम्मेवारी दी जाएगी समर्पित भाव से कार्य करूंगी। दिव्या की सफलता पर उसे बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।

मेहनत करने पर एक साल में भी मिल सकती सफलता
दिव्या ने बताया की एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद से ही यूपीएससी की तैयारी में लग गई और पहली बार में ही यूपीएससी की परीक्षा दी तो सफलता मिली। हालांकि उससे काफी कुछ सिखने समझने को मिला। उन्होंने बताया कि यदि आपके पास एक साल भी है और आपने जी जान लगाकर पढ़ाई की है, तो सफलता मिल सकती है। प्रतिदिन वह 10 से 12 घंटे पढ़ती थी। परीक्षा नजदीक आने पर 14 से 15 घंटे भी पढ़ाई की।

दिव्या ने यूथ के लिए दिया टिप्स
दिव्या ने यूथ के लिए संदेश भी टिप्स के रूप में दिया है। उनका कहना है कि यूथ को मेहनत, मेहनत और सिर्फ मेहनत करें। भगवान और खुद पर भरोसा आपको गिरने नहीं देगा। इंटरनेट का प्रयाग खूब करें, सिर्फ इतना ही जो आपको सफलता दिलाए। साथ ही सोशल नेटवर्किंग साइट्स से करियर बनने तक दूरी बनाकर रखें। और सबसे अहम, अपने माता-पिता को हमेशा सम्मान दें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News