Veer Savarkar first Look: रणदीप हुड्डा को पहचान पाना हो रहा मुश्किल, वीर सावरकर के लिए खुद को किया ट्रांसफॉर्म

Randeep Hooda First look as Veer Savarkar

मुख्य बातें
फिल्म स्वतंत्र वीर सावरकर का फर्स्ट लुक आउट हो गया है।
सामने आए लुक में रणदीप हुड्डा को पहचान पाना मुश्किल हो रहा है।
एक्टर ने इस रोल के लिए वजन घटाना शुरू कर दिया है।

Randeep Hooda First look as Veer Savarkar: वीर सावरकर की 139वीं जयंती(28 मई) को रणदीप हुड्डा ने और खास बना दिया है। इस खास मौके पर उनके जीवन पर बनने वाली फिल्म स्वतंत्र वीर सावरकर (Swatantra Veer Savarkar) का फर्स्ट लुक आउट हो गया है। जी हां, स्वतंत्रता सेनानी विनायक दामोदर सावरकर की जयंती के अवसर पर फिल्म के निर्माताओं रणदीप हुड्डा का पहला लुक जारी कर दिया है। इस पोस्टर में लिखा है, ‘हिंदुत्व धर्म नहीं, इतिहास है’। फिल्म में बॉलीवुड एक्टर रणदीप हुड्डा, वीर सावरकर का रोल प्ले कर रहे हैं। सामने आए लुक में रणदीप को पहचान पाना मुश्किल है।

रणदीप हुड्डा की फिल्म स्वंतत्र वीर सावरकर को प्रोड्यूसर करने का काम प्रोड्यूसर संदीप सिंह और आनंद पंडित कर रहे हैं, जबकि फिल्म को डायरेक्टर महेश मांजरेकर करने वाले हैं। फिल्म की शूटिंग को अगस्त 2022 से शुरू की जाने की तैयारी है। इस बात की जानकारी खुद फिल्म समीक्षक तरण आदर्श की ओर से दी गई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फिल्ममेकर स्क्रिप्ट का काम पूरा कर चुके हैं। इस रोल में खुद को फिट करने के लिए रणदीप फुल मेहनत कर रहे हैं। इस बात का अंदाज हम सामने आए उनके फिल्म से जुड़े लुक को देखकर लगा सकते हैं। खबरों की मानें तो एक्टर ने इस रोल के लिए अपना वजन कम करना शुरू कर दिया है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Taran Adarsh (@taranadarsh)

रणदीप हुड्डा और फिल्म के प्रोड्यूसर दोनों पहले फिल्म सरबजीत में भी काम कर चुके हैं। ऐसे में फिर से दोनों की जोड़ी इस नई फिल्म के जरिए नजर आने वाली है। दैनिक भास्कर को दिए एक इंटरव्यू में संदीप सिंह ने कहाइस फिल्म को हम पिछले 2 साल से बनाने की सोच रहे हैं. इसके डायरेक्टर महेश मांजरेकर मराठी हैं और उन्हें अच्छी तरह पता है कि वीर सावरकर पर पर्दे पर किस तरह पेश करना है।

संदीप सिंह ने आगे बताया,’ ‘स्वतंत्र वीर सावरकर’ के फर्स्ट लुक का कॉस्ट्यूम एश्ले रेबेलो ने तैयार किया है। फोटोग्राफी विक्की इद्यानी की है जबकि रणदीप हुड्डा का मेकअप रेणुका पिल्लई ने किया है। मराठी डायलेक्ट के लिए रणदीप ट्रेनिंग ले रहे हैं. बाकी कलाकारों की कास्टिंग अभी बाकी है, कुछ एक्टर लंदन से लिए जाएंगे’।

फिल्म को हम पिछले दो सालों से बनाने की सोच रहें हैं
संदीप सिंह ने दैनिक भास्कर से खास बातचीत में कहा, “इस फिल्म को हम पिछले दो सालों से बनाने की सोच रहें हैं। उन्हें वह कभी ओहदा नहीं मिला, जिसके वे हकदार थे। सावरकर को भारत रत्न और नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जाना चाहिए। इसके डायरेक्टर महेश मांजरेकर हैं, वे मराठी हैं। उन्हें भली भांति पता है कि फिल्म में किस तरह वीर सावरकर पेश करना है। वीर सावरकर के पहले लुक का कॉस्टयूम एश्ले रेबेलो ने तैयार किया है। फोटोग्राफी विक्की इद्यानी की है। रणदीप का मेकअप रेणुका पिल्लई ने किया है। रणदीप ने मराठी डायलेक्ट पर कमांड हासिल करने के लिए ट्रेनिंग भी शुरू कर दी है।”

3 महीने प्रोडक्शन की पूरी टीम रणदीप के साथ काम करेगी
संदीप ने बताया कि अभी फिलहाल रणदीप की कास्टिंग हुई है। कई कलाकार लंदन से लिए जाएंगे। अगले तीन महीने प्रोडक्शन की पूरी टीम रणदीप के साथ काम करेगी। रहा सवाल इसकी तुलना ‘कश्मीर फाइल्स’ से करने का तो हमने यह फिल्म तो उनकी रिलीज से पहले पिछले साल ही अनाउंस कर दी थी। तब तो कोई नहीं जानता था कि ‘कश्मीर फाइल्स’ को ऐसी सफलता मिलेगी। दूसरी बात यह कि हम इस फिल्म को हिट या फ्लॉप के नजरिए से बना ही नहीं रहें हैं। वो रहता तो मैं कोई कॉमेडी या एक्शन फिल्म बना रहा होता। बेशक ‘कश्मीर फाइल्स’ ने एक सीढ़ी तैयार की है, उन कहानियों के लिए जो अच्छी कहानी कहना चाहते हैं।

कौन थे विनायक दामोदर सावरकर
बता दें कि विनायक दामोदर सावरकर का जन्म 28 मई, 1883 को महाराष्ट्र के नासिक जिले के भागूर गांव में हुआ था। वह हिंदू महासभा, एक हिंदू राष्ट्रवादी संगठन और एक राजनीतिक दल के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्तियों में से एक थे। उन्हें हिंदुत्व की हिंदू राष्ट्रवादी राजनीतिक विचारधारा विकसित करने के लिए जाना जाता है। वीर सावरकर का निधन 26 फरवरी, 1966 को बॉम्बे में हो गया था।

वीरता की कहानी को लंबे समय तक दबाकर रखा गया।​​​​​​
रणदीप हुड्डा ने कहा, “वीर सावरकर आजादी की लड़ाई के सबसे प्रतिष्ठित नाम थे, मगर उन्हें गुमनाम रखा गया। हम उस गुमनामी को सलामी दे रहें हैं। मेरी कोशिश एक लार्जर दैन लाइफ स्वतंत्रता सेनानी को सलामी देने की है, जिनकी वीरता की कहानी को लंबे समय तक दबाकर रखा गया।”

प्रोड्यूसर आनंद पंडित ने बताया, “रणदीप की ख्याति वैसे कलाकारों के तौर पर है, जो किरदारों के काफी करीब पहुंचते हैं। ठीक वैसा ही बन जाते हैं। मैं खुद भी इतिहास प्रेमी रहा हूं। इस कहानी को लेकर काफी एक्साइटेड हूं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News