Government Jobs: 2014-22 के बीच सरकारी नौकरी को आए 22 करोड़ आवेदन, कितनों की लगी जॉब? सरकार ने दिया पूरा हिसाब

government job 2022

सार
सरकार ने बताया कि वर्ष 2014 से 2022 के दौरान केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में नियुक्ति के लिये 22.05 करोड़ आवेदन प्राप्त हुए और भर्ती एजेंसियों द्वारा 7.22 लाख अभ्यर्थियों की भर्ती की अनुशंसा की गई

Government Jobs: केंद्र सरकार की ओर से लोकसभा में सरकारी नौकरियों का आंकड़ा पेश किया गया. बुधवार को सरकार ने बताया कि, साल 2014 से 2022 तक विभिन्न विभागों में नौकरी के लिए 22.05 करोड़ आवेदन प्राप्त हुए हैं. इसमें सरकारी नौकरी के लिए परीक्षा आयोजित कराने वाली एजेंसियों द्वारा करीब 7.22 लाख उम्मीदवारों की भर्ती की सिफारिश की गई है. बता दें कि, केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने लोकसभा में ए रेवंत रेड्डी के सवालों के लिखित जवाब में यह जानकारी दी है. हाल ही में जितेंद्र सिंह ने बताया था कि, साल 2020-21 में UPSC, SSC और IBPS के जरिए 1.5 लाख लोगों को नौकरियां मिली हैं.

साल 2014 से अब तक सरकारी विभागों में नई भर्ती के लिए आए हुए आवेदन के बारे में लोकसभा में सवाल किया गया था. इसके जवाब में कार्मिक राज्य मंत्री डॉ जितेन्द्र सिंह ने भर्तियों का आंकड़ा पेश किया है. उन्होंने बताया कि साल 2014 के बाद से अब तक कुल 22,05,99,238 एप्लीकेशन प्राप्त हुए हैं.

केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने दी जानकारी
लोकसभा में अपने लिखित जवाब में केंद्रीय मंत्री Dr Jitendra Singh ने बताया कि, बजट 2021-22 में प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव योजना शुरू की गई है. इस योजना के तहत 60 लाख नए रोजगार पैदा करने की क्षमता है. इसके अलावा, भारत सरकार ने देश में रोजगार पैदा करने के लिए कई कदम उठाए हैं.

किस साल मिली कितनी नौकरियां?
साल नौकरियों की संख्या
2014-15 1,30,423
2015-16 1,11,807
2016-17 1,01,333
2017-18 76,147
2018-19 38,100
2019-20 1,47,096
2020-21 78,555
2021-22 38,850
10 लाख नौकरियों का लक्ष्य
हाल ही में पीएम मोदी ने सभी विभागों और मंत्रालयों में नई भर्ती को लेकर निर्देश दिए थे. इसके तहत सरकार द्वारा अगले डेढ़ सालो में 10 लाख लोगों को नौकरी देने का लक्ष्य रखा गया है. यह भर्ती केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों और मंत्रालयों के अंतर्गत की जाएगी.

दो साल में 1.5 लाख लोगों को नौकरी
केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने राज्यसभा में जानकारी दी थी कि 1,59,615 उम्मीदवारों को साल 2020-2021 में नौकरियां दी गईं हैं. इसमें से 8,913 उम्मीदवारों का चयन UPSC के माध्यम से किया गया है. इसके बाद 97,914 उम्मीदवारों का SSC के और 52,788 उम्मीदवारों का IBPS के जरिए सेलेक्शन किया गया है. करियर की खबरें यहां देखें.

जॉब्स पैदा करना प्राथमिकता
सिंह ने लोकसभा को बताया कि रोजगार देने के साथ ही रोजगार की क्षमता में सुधार लाना भी सरकारी की प्राथमिकता है. इसे देखते हुए भारत सरकार ने रोजगार पैदा करने के लिए कई कदम उठाए हैं. उन्होंने कहा कि बजट 2022 में सरकार ने 2021-22 से शुरू होने वाले 5 साल की अवधि के लिए 1.97 लाख करोड़ रुपये के आउटले के साथ प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) योजनाएं शुरू कीं. सरकार द्वारा शुरू की गई इस PLI स्कीम से 60 लाख नए जॉब्स पैदा होंगे.

उन्होंने कहा कि PLI योजना संबंधित मंत्रालयों और विभागों द्वारा फाइनेंशियल लिमिट के भीटर संचालित की जाती है. इसके लिए संबंधित मंत्रालयों और विभागों द्वारा गाइडलाइंस जारी किए जाते हैं.

पीएम मुद्रा योजना से रोजगार को बढ़ावा
इसके साथ ही स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) भी चलाया जा रहा है. पीएम मुद्रा योजना के तहत छोटे व्यापारियों और उद्यमियों को 10 लाख रुपये तक लोन दिया जाता है, जिससे वह अपने व्यापार का विस्तार कर सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News