Pallonji Mistry: मशहूर बिजनेसमैन पालोनजी मिस्त्री का निधन, 50 देशों में फैला है कारोबार

RIP PALONJEE MISTRY

सायरस मिस्त्री के पिता बिजनेस टाइकून पालोनजी मिस्त्री का निधन:1.02 लाख करोड़ रुपए​​​​​​​ की संपत्ति के थे मालिक !

सार
Pallonji Mistry: पालोनजी के निधन पर पीएम मोदी ने दुख जताया है। उन्होंने कहा, ‘पालोनजी मिस्त्री के निधन से दुखी हूं। उन्होंने वाणिज्य और उद्योग की दुनिया में महत्वपूर्ण योगदान दिया। उनके परिवार, दोस्तों और अनगिनत शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। उनकी आत्मा को शांति मिले।’

HIGHLIGHTS
पालोनजी मिस्त्री का 93 साल की उम्र में मुंबई में निधन
पालोनजी के निधन पर पीएम मोदी ने दुख जताया
आयरिश महिला से की थी पालोनजी ने शादी, 13 बिलियन डॉलर थी नेटवर्थ

Shapoorji Pallonji Death: शापूरजी पालोनजी ग्रुप (Shapoorji Pallonji Group) के चेयरमैन पालोनजी मिस्त्री (Pallonji Mistry) का कल रात मुंबई में 93 साल की उम्र में निधन हो गया है. शापूरजी पालोनजी ग्रुप देश के सबसे प्रतिष्ठित कारोबारी घरानों में से एक है. करीब 150 साल से अधिक पुरानी शापूरजी पालोनजी ग्रुप भारत के सबसे बड़े कारोबारी कंपनियों में से एक है और इसकी सफलता का श्रेय एकांतप्रिय अरबपति पालोनजी मिस्त्री को दिया जाता है. जिसका कारोबार कंस्ट्रक्शन, इंजीनियरिंग, रियल एस्टेट समेत कई अन्य फील्ड में फैला हुआ है. जानकारी के मुताबिक शापूरजी ग्रुप (Shapoorji Pallonji Group) में 50 हजार के करीब लोग काम करते हैं. इस कंपनी का कारोबार दुनियाभर के पचास देशों में फैला हुआ है. वह भारत के सबसे पुराने अरबपतियों में से एक थे. गुजरात के एक पारसी परिवार में पैदा हुए इस बिजनेस टाइकून का बीती रात मुंबई में निधन हो गया.

पालोनजी मिस्त्री को कारोबार जगत में अपने उत्कृष्ट योगदान के लिए साल 2016 में पद्म भूषण (Padama Bhushan) सम्मान से भी नवाजा गया था. पालोनजी मिस्त्री के बेटे साइरस मिस्त्री को ही एक बार टाटा संस के चेयरमैन पद पर नियुक्त किया गया था. साइरस मिस्त्री 2012 और 2016 के बीच टाटा संस के चेयरमैन के पद पर बने रहे थे. लेकिन विवाद के बाद उन्हें इस पद से हटना पड़ा था.

टाटा संस में 18.37% हिस्सेदारी
शापूरजी पालोनजी ग्रुप के सास देश की प्रतिष्ठित कंपनी टाटा संस में 18.37 फीसदी की हिस्सेदारी है. कुछ साल पहले ही पालोनजी मिस्त्री के बेटे साइरस मिस्त्री (Cyrus Mistry) को टाटा संस (Tata Sons) का चेयरमैन नियुक्त किया गया था. लेकिन बाद में विवाद के चलते उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. गौरतब है कि टाटा संस और साइरस मिस्त्री के बीच उठा ये विवाद कोर्ट के दखल के बाद ही सेटल हो पाया था. इस पूरी विवाद के बाद वे टाटा संस में अपनी पूरी हिस्सेदारी को बेचना चाहते थे. जानकारी के मुताबिक, शापूरजी पालोनजी ग्रुप इस समय वित्तीय संकट से गुजर रहा है. कंपनी पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ रहा है. ऐसे में कंपनी कर्ज से के बोझ को हल्का करने के लिए टाटा संस में मौजूद उनकी हिस्सेदारी को बेचना चाहती है.

कौन हैं पालोनजी मिस्त्री?

पद्म भूषण से हो चुके थे सम्मानित
पालोनजी मिस्त्री को कारोबार जगत में उनके शानदार योगदान के लिए साल 2016 में पद्म भूषण सम्मान से भी नवाजा गया था। पालोनजी मिस्त्री के बेटे साइरस मिस्त्री भी टाटा संस के चैयरमैन रह चुके हैं।

आयरिश महिला से की थी शादी
पालोनजी मिस्त्री ने आयरिश महिला से शादी रचाने के बाद उन्होंने आयरलैंड की नागरिकता हासिल कर ली थी। वह आयरलैंड के सबसे अमीर शख्स हैं।

पालोनजी के 4 बच्चे
पालोनजी के पीछे उनके परिवार में उनकी पत्नी पाट्सी पेरिन डुबास और 4 बच्चे हैं। दो बेटे शापूर मिस्त्री और साइरस मिस्त्री के अलावा दो बेटियां लैला मिस्त्री और अलू मिस्त्री हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News