पिता ने मूसेवाला की मूंछों को ताव दिया और पगड़ी उतारकर लोगों को शुक्रिया कहा, आखिरी सफर में उमड़ी प्रशंसकों की भीड़

MOOSEWALA LAST RIDES

स्टोरी हाइलाइट्स
सोमवार देर शाम हुआ सिद्धू का पोस्टमार्टम
आज सुबह परिजनों को सौंपा गया था शव
29 मई को हुई थी सिद्धू मूसेवाला की हत्या

सार
Sidhu Moosewala Last Rites: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला को पंजाब के मानसा जिले के मूसा गांव में अंतिम विदाई दी गई. अपने गांव के बच्चे को अंतिम विदाई देने के लिए जनसैलाब नजर आया. इस दौरान कलेजे को चीर देने वाली तस्वीरें दिखाई दीं. मूसेवाला के पिता रोते-बिलखते नजर आए. उन्होंने अपने बेटे को अंतिम विदाई देते वक्त अपनी पगड़ी उतारी और बेटे की मूंछों को ताव दिया.

Sidhu Moosewala Last Rites: मशहूर पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला पंचतत्व में विलीन हो गए हैं। मानसा जिले के मूसागांव स्थित उनके खेत में ही उन्हें मुखाग्नि दी गई। मूसेवाला की अंतिम यात्रा में उनके प्रशंसकों की भारी भीड़ जुटी, जो उनकी एक आखिरी झलक देखना चाहती थी। मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह और मां चरण कौर ने अपने स्टार सिंगर बेटे को विदाई देने पहुंचे सैकड़ों प्रशंसकों का हाथ जोड़कर धन्यवाद किया। पिता ने अपनी पगड़ी उतारकर प्रशंसकों को शुक्रिया किया।

प्रशंसकों ने पंजाब सरकार मुर्दाबाद के नारे लगे
मूसेवाला की शव यात्रा और अंतिम संस्कार वाली जगह पर पंजाब सरकार मुर्दाबाद के नारे लगे। उनके प्रशंसकों ने उनकी सिक्योरिटी हटाए जाने और इसकी जानकारी सार्वजनिक किए जाने के चलते सरकार के प्रति नाराजगी जाहिर की।

फेवरेट ट्रैक्टर पर अंतिम यात्रा
मूसेवाला की अंतिम यात्रा उनके फेवरेट ट्रैक्टर पर निकली है। अपने कई पंजाबी गानों में उन्होंने इस ट्रैक्टर का जिक्र किया है। उन्हें इससे इतना लगाव था कि इसे मोडिफाई करवाकर घर पर रखे हुए थे और जब भी मन होता इसे लेकर खेतों की ओर निकल जाते थे।

हर आंख हुई नम
अपने चहेते स्टार की आखिरी झलक पाने बड़ी संख्या में उनके फैंस उमड़ पड़े हैं। लोग काफी भावुक हैं। कुछ फैंस ने तो अपनी बॉडी पर मूसेवाला का टैटू तक बनवा रखा है। घर से अंतिम संस्कार वाली जगह तक पैर रखने की जगह नहीं बची है। फैंस सिद्धू भाई अमर रहे के नारे लगा रहे हैं। जानकारी मिल रही है कि राज्य सरकार के खिलाफ भी नारेबाजी हुई है।

मूसेवाला के कुत्ते भी कुछ खा नहीं रहे
मूसेवाला के एक रिश्तेदार ने बताया है कि सिद्धू के पालतू कुत्ते भी कुछ नहीं खा रहे हैं। दो दिन से उन्होंने खाने की तरफ देखा तक नहीं है। उनकी आंखें में नम सी दिख रही है। ऐसा लग रहा है कि उन्हें पता चल गया है कि जो उन्हें सबसे ज्यादा प्यार करता था, वो अब इस दुनिया में नहीं है। रिश्तेदार ने बताया कि मूसेवाला खुद उन्हें सुबह और शाम में खाना खिलाया करते थे।

फिल्मी स्टाइल में हुआ मूसेवाला का मर्डर
29 मई रविवार को मानसा के गांव जवाहरके में अज्ञात हमलावरों दिन दिहाड़े सिद्धू मूसेवाला पर अंधाधुंध गोलियां चलाई थीं। बताया जाता है कि इस दौरान करीब 30 राउंड फायर किए गए थे। जो उनके सिर-छाती और पेट के आर-पार हो गई थीं। हमलावर दो मिनट में इस सारी घटना को अंजाम देने के बाद भाग निकले। इस हमले की जिम्मेदारी गैंगस्टर लॉरेंश बिश्नोई और गोल्डी बराड़ ने ली है।

आखिरी बार मां ने संवारे बाल, पिता ने पगड़ी पहनाई
इससे पहले मूसेवाला की मां ने अंतिम यात्रा के लिए आज आखिरी बार बेटे के बाल संवारे। पिता ने पगड़ी पहनाई। मूसेवाला के सिर पर सेहरा सजाया गया। उनकी अप्रैल महीने में ही शादी होनी थी। ताबूत में लिटाए गए बेटे को मां-पिता एकटक निहारते रहे। यह देखकर वहां मौजूदा लोगों की आंखें भर आईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News