TATA iPhone manufacturing: टाटा बनाएगा आईफोन, जानिए किस डील की चल रही है तैयारी !

tata iphone

सार
न्यूज एजेंसी रॉयटर की रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा ग्रुप विस्ट्रॉन इंडिया के साथ मिलकर ज्वाइंट वेंचर की तैयारी में है. अगर डील पूरी हो जाती है तो टाटा ग्रुप ऐप्पल के लिए आईफोन तैयार करेगी. ऐप्पल आईफोन साल 2017 से भारत में तैयार हो रहा है.

TATA iPhone manufacturing: टाटा ग्रुप भारत में एक इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग जॉइंट वेंचर स्थापित करने के लिए एपल इंक के ताइवानी सप्लायर विस्ट्रॉन कॉर्प के साथ बातचीत कर रहा है। ये जॉइंट वेंचर भारत में आईफोन असेंबल करेगा। टाटा इसके जरिए टेक्नोलॉजी मैन्युफैक्चरिंग में एक ताकत बनना चाहता है। यदि यह डील सफल होती है, तो यह टाटा को आईफोन बनाने वाली पहली भारतीय कंपनी बना देगा। अभी भारत और चीन में विस्ट्रॉन और फॉक्सकॉन आईफोन असेंबल करती है।

कुछ मीडिया रिपोर्ट में ये दावा किया गया है। अगर भारतीय कंपनी आईफोन बनाना शुरू कर देती है तो ये इससे चीन को कड़ी टक्कर मिलेगी। चीन के इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग में डॉमिनेंस को कोविड लॉकडाउन और अमेरिका के साथ राजनीतिक तनाव ने खतरे में डाल दिया है। बढ़ते भू-राजनीतिक जोखिमों के समय चीन पर अपनी निर्भरता कम करने के लिए एपल आईफोन मैन्युफैक्चरिंग के लिए अकेले चीन पर डिपेंड नहीं रहना चाहता।

डील को अंतिम रूप दिया जाना बाकी
डील का स्ट्रक्चर और डिटेल्स जैसे कि शेयर होल्डिंग को अंतिम रूप दिया जाना बाकी है। इस मामले से जुड़ लोगों में से एक ने कहा कि आईफोन मैन्युफैक्चरिंग के लिए विस्ट्रॉन के इंडिया ऑपरेशन में टाटा इक्विटी खरीद सकती है या कंपनियां एक नया असेंबली प्लांट बना सकती है। ये दोनों चीजें भी एक्जीक्यूट हो सकती है। एपल उन क्षेत्रों में स्थानीय कंपनियों के साथ काम करने के लिए जाना जाता है जहां वह मैन्युफैक्चरिंग बेस स्थापित करता है।

आईफोन मैन्युफैक्चरिंग को 5 गुना बढ़ाने का लक्ष्य
लोगों में से एक ने कहा कि नए वेंचर का लक्ष्य भारत में विस्ट्रॉन के निर्मित आईफोन की संख्या को पांच गुना तक बढ़ाना है। अगर ये पार्टनरशिप होती है तो केवल आईफोन मैन्युफैक्चरिंग तक सीमित नहीं रहेगी। स्मार्टफोन से भी आगे इस मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस को ले जाया जाएगा। टाटा ग्रुप के चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन ने कहा है कि इलेक्ट्रॉनिक्स और हाई टेक मैन्युफैक्चरिंग कंपनी के लिए प्रमुख फोकस क्षेत्र हैं।

घाटे से जूझ रहे विस्ट्रॉन को मिलेगा मजबूत पार्टनर
सॉफ्टवेयर, स्टील और कार जैसे सेक्टर में टाटा ग्रुप का ज्यादातर बिजनेस है। लेकिन उसने साउथ इंडिया में आईफोन के चेचिस के कॉम्पोनेंट का निर्माण शुरू कर स्मार्टफोन सप्लाई चेन में शुरुआती कदम उठाए हैं। घाटे से जूझ रहे विस्ट्रॉन के भारतीय व्यवसाय को टाटा का साथ एक मजबूत लोकल पार्टनर देगा। विस्ट्रॉन ने 2017 में भारत में आईफोन बनाना शुरू किया था। ताइपे स्थित कंपनी वर्तमान में कर्नाटक में अपने प्लांट में आईफोन्स को असेंबल करती है।

भारत में 2017 से बन रहा है आईफोन
भारत में ऐप्पल फोन की असेंबलिंग साल 2017 से की जा रही है. पहले विस्ट्रॉन और फिर फॉक्सकॉन ने भारत में ऐप्पल फोन के लिए असेंबलिंग यूनिट लगाई. सरकार भी लोकल मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. रिपोर्ट में साफ-साफ कहा गया है कि फिलहाल विस्ट्रॉन और टाटा ग्रुप के बीच जारी चर्चा की जानकारी ऐप्पल को नहीं है.

कई विकल्पों पर विचार किया जा रहा है
विस्ट्रॉन और टाटा ग्रुप के बीच डील की डिटेल को लेकर कहा गया कि कई विकल्पों पर विचार किया जा रहा है. पहला विकल्प है कि टाटा ग्रुप विस्ट्रॉन इंडिया में कुछ हिस्सेदारी खरीद ले. दूसरा विकल्प है कि दोनों मिलकर एक नई असेंबलिंग यूनिट तैयार करे. इससे क्षमता का भी विस्तार होगा. तीसरा विकल्प ये हो सकता है कि दोनों विकल्पों पर एकसाथ आगे बढ़ा जाए.

विस्ट्रॉन में हिस्सेदारी खरीद सकता है टाटा ग्रुप
फिलहाल इस डील को लेकर ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है. माना जा रहा है कि टाटा ग्रुप विस्ट्रॉन के मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस में एक हिस्सा खरीद ले और कंपनी की टेक्नोलॉजी मैन्युफैक्चरिंग कुशलता का लाभ उठाए. टेक्नोलॉजी मैन्युफैक्चरिंग में स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरिंग के अलावा भी अन्य तर की मैन्युफैक्चरिंग शामिल हो सकती है. इस संबंध में पूछे गए सवाल पर विस्ट्रॉन, टाटा ग्रुप या फिर ऐप्पल की तरफ से रिपोर्ट लिखे जाने तक कोई जवाब नहीं आया था.

चीन के छह सप्ताह बाद भारत में भी शुरू हो जाएगा iPhone 14 का प्रोडक्शन
ऐप्पल ने साल 2017 में भारत में आईफोन मैन्युफैक्चरिंग की शुरुआत की. भारत में iPhone 11, iPhone 12 और iPhone 13 का निर्माण फॉक्सकॉन यूनिट में किया जाता है. iPhone SE और iPhone 12 की असेंबलिंग विस्ट्रॉन फैक्ट्री में होती है. माना जा रहा है कि चीन में मैन्युफैक्चरिंग होने के कम से कम छह सप्ताह बाद भारत में हालिया लॉन्च iPhone 14 की मैन्युफैक्चरिंग शुरू हो जाएगी.

हाल में लॉन्च हुए हैं नए आईफोन
पिछली रिपोर्ट्स की मानें तो अगले दो से तीन महीने में मार्केट में भारत में असेंबल हुए ऐपल के लेटेस्ट फोन्स आ जाएंगे. Apple ने इस हफ्ते ही अपनी iPhone 14 सीरीज को लॉन्च किया है. इस सीरीज में कंपनी ने चार नए स्मार्टफोन iPhone 14, iPhone Plus, iPhone 14 Pro और iPhone 14 Pro Max लॉन्च किए हैं.

कंपनी ने iPhone 14 सीरीज में कोई बड़ा बदलाव नहीं किया है. डिजाइन, प्रोसेसर और कैमरा के मामले में ज्यादातर नई चीजें आपको iPhone 14 Pro सीरीज में देखने को मिलेंगी. इस सीरीज में कंपनी 48MP का कैमरा, A16 Bionic चिपसेट और नया डिस्प्ले दिया है.

7 सितंबर को हुए लॉन्च इवेंट में ऐपल ने नए आईफोन्स के साथ Apple Watch सीरीज 8, SE और Watch Ultra लॉन्च की है. इसके अलावा कंपनी ने Airpods Pro भी लॉन्च किया है, जो नए फीचर्स के साथ आता है. जल्द ही ये सभी प्रोडक्ट्स मार्केट में उपलब्ध होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News