संस्कारी चोर! पहले की पूजा, फिर बैंक से गोल्ड और कैश लूटकर फरार हो गया

CHORI KARNE SE PEHLE LOCKER KI PUJA

सार
केरल के कोल्लम जिले में चोरों ने बैंक लूटने से पहले शराब और पान के पत्तों के साथ विधिवत पूजा की, फिर 30 लाख रुपये का सोना और 4 लाख रुपये की नकदी चुरा ले गए। बता दें, चोरों ने यह लूट पठानपुरम में जनता जंक्शन के ‘पठानपुरम बैंकर्स’ नामक एक प्राइवेट फाइनेंसियल इंस्टीट्यूशन में की।

हाइलाइट्स
केरल के कोल्लम जिले में हुई यह वारदात
नगदी और सोने के 100 सिक्के चुरा ले गए
‘मैं बहुत खतरनाक हूं, मेरा पीछा मत करना’

Crime Desk : अक्सर चोर ऐसे अजीबोगरीब चोरी की घटना को अंजाम दे जाते है जिन्हे देखने के बाद कभी-कभी आखों पर विश्वास करना भी मुश्किल हो जाता है। इसी तरह का एक मामला केरल के कोल्लम जिले से सामने आया है, जहां चोर एक फर्म में घुसे और गहने और नकदी लूट ले गए। लेकिन चोरी की घटना से ज्यादा चर्चा चोरों के उस काम की हो रही है जो उन्होंने इस चोरी को करने के पहले किया। दरअसल इन चोरों ने फर्म में चोरी को अंजाम देने से पहले विधिवत पूजा संपन्न की। ये मामला चर्चा का विषय बन गया है।

चोरी के पहले की लॉकर की पूजा
मामला केरल के कोल्लम जिले का है जहां पाटनपुरम बैंकर्स नामक निजी फाइनेंसियल फर्म में लूट की घटना को अंजाम दिया गया। यहां चोरों ने लॉकर के सामने शराब और पान के पत्तों को रखकर पूजा की। बाद में इसी लॉकर में रखी 30 लाख के गहने और 4 लाख रुपये लूटकर चंपत हो गए।

डॉग स्क्वॉड को गुमराह करने की चाल
चोरी की वारदात की शिकायत मिलने के बाद जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो उसने देखा की वहां पर पूजा की गई थी। वहां पर पान की पत्तियो के ऊपर एक तस्वीर भी रखी हुई थी जो एक देवता की थी। पुलिस को शराब की बोतल और पान के पत्ते के साथ एक भाला भी मिला। जिस पर चूना लगा था और पीला पत्ता भी बंधा था।

मनोरमा ऑनलाइन ने पुलिस के हवाले से लिखा है कि चोरों ने पुलिस के डॉग स्क्वॉड को गुमराह करने के लिए चारों तरफ इंसान के बाल बिखरा रखे थे।

चोरी के बाद लगाया पोस्टर
पुलिस को वारदात की जगह पर एक और रहस्यमयी चीज नजर आई जो एक पोस्टर था जिसे चोरों ने लगा रखा था। इस पर लिखा था मैं खतरनाक हूं, मेरे पीछे मत आना। यानि चोरों ने सीधी धमकी दे रखी थी कि तलाश करने वाले का अंजाम बुरा होगा।

फर्म के मालिक ने बताया कि लॉकर के अंदर रखा 100 पीस सोना और ढेर सारी नकदी चोरों ने साफ कर दी है।

चोरी के बारे में सोमवार को पता चला
उन्होंने बताया कि चोरी के बारे में सोमवार को पता चला। दरअसल शनिवार को फर्म बंद हुई और रविवार को साप्ताहिक अवकाश था। ऐसे में जब सोमवार को फर्म खुली तो अंदर का नजारा देखकर सब हैरान रह गए। ये समझते देर न लगी कि यहां पर चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News