OMG..! 70 साल के बुजुर्ग की निकली बारात.. बेटा बेटी समेत हजारों लोग बने बाराती

bihar me 70 saal ke bujurg ki baarat

सार
Unique Marriage in Bihar: कहते हैं जीवनसाथी के बीना जिंदगी अधूरी रहती है और अकेलेपन का अहसास इंसान का जीवन बेहद मुश्किल बना देता है. चाहे उम्र कुछ भी हो. एक खुशहाल जीवन के लिए एक साथी की आवश्यकता जरूर पड़ती है. इस बात को साबित कर दिखाया है उम्र के आखिरी पड़ाव पर जिंदगी गुजार रहे 70 साल के बुजुर्ग ने अपना ब्याह रचा कर.

Unique Marriage in Bihar: बिहार के छपरा में लोग एक अनोखी शादी (Unique Marriage in Bihar) का गवाह बने. 70 साल के एक बुजुर्ग (70 Year Old Man Barat in Chapra ) 42 साल के बाद अपनी दुल्हन का दोंगा (गौना) कराने पहुंचे. इस दौरान पूरे राजसी ठाठ-बाठ से बारात निकाली गयी. इस अनोखे बारात को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. हजारों लोग बारात के गवाह बने. लगभग सात दशक से ज्यादा उम्र के राजकुमार सिंह ने जिंदगी के इस पड़ाव को यादगार बना डाला.यह वाकया छपरा जिले के एकमा प्रखंड (Ekma block) के आमदाढ़ी गांव (Aamdadhi village Chapra) का है.

42 साल बाद हुई दोंगा की रस्म
बिहार के छपरा के रहने वाले इस शख्स की शादी 42 साल पहले हुई थी. अब वो चार दशक बाद अपनी पत्नी का दोंगा कराने रथ पर सवार होकर गया है. जब गांव में 70 साल के बुजुर्ग की बारात निकली तो हर कोई देखने को मजबूर हो गया. दूल्हा बने राजकुमार सिंह ने बताया की 42 साल पहले उनकी शादी में मांझी थाने के नचाप गांव से बारात आमदाढ़ी आई थी. शादी के बाद वह कभी अपने ससुराल आमदाढ़ी नहीं गए थे और न कभी दोंगा ही हुआ था. उनकी बेटियों और बेटे ने मिलकर 42 साल बाद दोंगा की रस्म को पूरा किया.

अपने बच्चों के लिए किया काफी संघर्ष
दरअसल, राजकुमार अपने गांव में आटा-चक्की चलाते है. अपनी बेटियों को बिहार पुलिस और सेना में नौकरी दिलाने के लिए काफी संघर्ष किया है और अपने बेटे को इंजीनियर बनाया है. बच्चों की जिद के वजह से बुजुर्ग की 70 साल में शादी पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है. बच्चों की जिद के वजह से राजकुमार सिंह दुल्हा बनकर पत्नी को दुबारा विदा कर घर लाने के लिए गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News