UPSC-2021 Result : झारखंड के कई छात्रों को मिली सफलता, संघ लोक सेवा आयोग ने जारी किया परिणाम

jharkhand student in upsc

UPSC-2021 Result :संघ लोक सेवा आयोग द्वारा सिविल सेवा परीक्षा 2021 का फाइनल रिजल्ट सोमवार को डिक्लेयर किया गया। जिसमें श्रुति शर्मा ने पहली रैंक हासिल की। टॉप करने वाली श्रुति बिजनौर में जन्मी हैं और दिल्ली से हिस्ट्री की पढ़ाई की है। जबकि दूसरी रैंक अंकिता अग्रवाल ने और तीसरी रैंक गामिनी सिंगला के नाम रही। टॉप-10 रैंक होल्डर्स में से 4 लड़कियां रहीं। साल 2021 के रिजल्ट में टॉप 10 में 5 लड़कियां थीं।

685 कैंडिडेट्स का सिलेक्शन, 80 का रिजल्ट प्रोविजनल
संघ लोक सेवा आयोग की रिजल्ट लिस्ट के मुताबिक, 685 कैंडिडेट्स ने परीक्षा पास की है। इनमें से 180 IAS, 37 IFS और 200 IPS के लिए पास हुए हैं। सिविल सेवा परीक्षा पास करने वाले कैंडिडेट्स का सिलेक्शन UPSC ने तीन राउंड- प्रीलिम्स परीक्षा, मेन्स एग्जाम और इंटरव्यू राउंड में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया। इनके अलावा 80 उम्मीदवारों की दावेदारी प्रोविजनल है।

गढ़वा की नम्रता चौबे को 73वां स्थान
उधर, झारखंड के गढ़वा जिले के गढ़वा प्रखंड के हूर गांव निवासी विपिन कुमार चौबे की पुत्री नम्रता चौबे संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा पास करने में सफल रही। नम्रता को 73 रैंक मिला है। उनके पिता मध्य विद्यालय परिहारा गढ़वा में सरकारी शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। अभी नम्रता दिल्ली में है। स्वजन के अनुसार वह अगले सोमवार को गढ़वा आएगी।

पलामू के कुमार सौरभ को 357वां स्थान
इसी तरह पलामू जिले के पांडु गांव के रहनेवाले कुमार सौरभ ने यूपीएससी परीक्षा में 357वां स्थान प्राप्त किया है। उनके गांव में लोग उनकी सफलता का जश्न मना रहे हैं। उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। कुमार सौरभ की सफलता पर ग्रामीणों ने कहा कि यह गांव के लिए गर्व की बात है।

रांची की श्रुति को यूपीएससी में 25वां स्थान
उधर, रांची की श्रुति राजलक्ष्मी ने यूपीएससी में 25वां स्थान लाने में सफलता प्राप्त की है। श्रुति बीएचयू आइआइटी से 2019 में कप्यूटर साइंस से पास करने के बाद एक वर्ष नौकरी की। फिर स्वयं से तैयारी कर यूपीएससी में सफलता प्राप्त की है। पिता आनंद कुमार वकील हैं और मां जिला समाज कल्याण पदाधिकारी हैं। अभी प्रोजेक्ट भवन में हैंँ। श्रुति ने स्वयं से रांची और दिल्ली में रहकर तैयारी की। श्रुति लोयोला स्कूल जमशेदपुर की साइंस टापर रही है। 12वीं डीपीएस आरकेपुरम दिल्ली से की है।

रांची के मुकेश और गिरिडीह के रवि भी सफल
उधर, रांची के मुकेश कुमार गुप्ता को सिविल सेवा परीक्षा में 499वां रैंक हासिल हुआ है। इसी तरह झारखंड के गिरिडीह के रहनेवाले रवि कुमार ने सिविल सेवा परीक्षा में 38वां स्थान हासिल किया है। दोनों लोगों की सफलता से दोनों जिलों में लोग काफी खुश नजर आ रहे हैं। उनके घर बधाई देने वालों का तांता लग गया है।

देवघर के चिरंजीव आंनद को 126वां रैंक
उधर, झारखंड के देवघर जिले के रहने वाले चिरंजीव आनंद को सिविल सेवा परीक्षा में 126वां रैंक मिला है। उनके गांव में खुशी का माहौल है। जैसे ही लोगों को परिणाम में सफल होने की सूचना मिली,लोग उनके घर बधाई देने के लिए पहुंचने लगे।

लोहरदगा से राकेश रंजन उरांव भी सफल
लोहरदगा के राकेश उरांव भी यूपीएससी परीक्षा में सफल रहे हैं। इनके पिता सेवानिवृत्त बैंक कर्मचारी हैं। मां चुन्नीलाल उच्च विद्यालय में शिक्षिका हैं। वर्तमान में राकेश उरांव ट्राइबल इंस्टिट्यूट रांची में डिप्टी डायरेक्टर के पद पर कार्यरत हैं। पांचवी जेपीएससी में सफलता पाने के बाद वर्तमान में डिप्टी डायरेक्टर के पद पर काम कर रहे हैं। जेपीएससी में सफलता के बाद भी यूपीएससी की तैयारी जारी रखी थी। पिछली बार भी इंटरव्यू तक पहुंचे थे।

धनबाद के छाताबाद के उमर नाजिश को मिला 344वां रैंक
धनबाद : संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया है. धनबाद के छाताबाद निवासी उमर नाजिश अंसारी ने यूपीएससी में 344वां रैंक हासिल किया है.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News