सांप ने डसा तो तड़पते हुए बोली-मेरी आंखें दान कर देना, मरने के बाद भी दूसरे की ज़िन्दगी रौशन कर गई बच्ची !

saanp ne kata ladki ko

Zara-Hatke : टोंक के मालपुरा की एक दस साल की बच्ची मरने के बाद भी लोगों को जिंदगी रौशन कर गई। रायथल्या गांव की अंजली कंवर को सांप ने डस लिया। मरने से पहले बच्ची ने कहा कि मेरी आंखें दान कर देना। जिससे किसी और का जीवन रौशन हो सके।

मामले के अनुसार अंजली कंवर पुत्री पप्पू सिंह शुक्रवार रात को खेत पर बने मकान में सो रही थी। इसी दौरान उसे सांप ने काट लिया। जिससे वो रोने लगी। परिजन जागे और उसे मालपुर चिकित्सालय ले गए, तब पता चला कि उसे सांप ने डसा है। मालपुर चिकित्सालय से बच्ची को जयपुर रेफर कर दिया गया। जयपुर के एसएमएस अस्पताल में अंजलि को भर्ती करवाया गया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इस घटना का पता चलने पर बालिका के मामा शंकर सिंह निवासी लावा भी जयपुर पहुंचे। घटना के बाद परिवार जनों ने मामा को बताया कि अंजलि ने मरते समय कहा था कि मेरी आंखें दान कर देना। इस पर मामा ने परिजनों को प्रेरणा दी गई कि अंजली की तो मौत हो गई है। आप बच्ची की आंखें दान कर दीजिए। चाहे हमारी बिटिया हमारे बीच नहीं रही हो लेकिन उसकी आंखों से किसी और का जीवन रौशन हो सकेगा। इस पर सभी परिवार जनों ने डॉक्टर से कहा कि हमने बेटी की आंखें दान करने का निर्णय लिया है। जिस इंसान को बालिका की आंखें लगाया जाए, उस इंसान से हम जरूर मिलना चाहेंगे।

मृतका अंजलि इकलौती बेटी थी और उसके दो बड़े भाई मौजूद है। माता-पिता मजदूरी करके अपना जीवनयापन करते हैं। बालिका सरकारी स्कूल में कक्षा चार में पढ़ती थी। इस घटना से परिवार में शोक का माहौल है। वहीं मानव सेवा के इस प्रेरणात्मक कार्य के लिए आई बैंक सोसायटी ने अंजलि को सम्मान पत्र से सम्मानित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest News