7 साल की उम्र से चाचा कर रहे थे दुष्कर्म, महिला ने 28 साल बाद दर्ज करवाई फिर

ALIGARH RAPE CASE

सार
मेरा कोई अपना होता, तो मैं उसे दर्द बताती। मेरी मां थी। उन्हें बताती थी कि मेरे पेट में दर्द हो रहा है। मगर, वह मुझे गोली दे देती। चुप रहने के लिए भी कहती। जो हो रहा था, उसे होने देती। उन्होंने कभी मेरा साथ नहीं दिया। इसलिए मैं इतने साल तक चुप रही…

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ की ये कहानी हैरान करने वाली और बेहद शर्मनाक है. बात 1986 की है. पीड़िता जब ढाई वर्ष की थी उसके पिता की मृत्यु एक सड़क दुर्घटना में हो गई थी. इसके बाद विधवा मां ने अलीगढ़ के बरला थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति से प्रेम विवाह कर लिया. 7 वर्ष की उम्र में मझले सौतेले चाचा यतेंद्र ने उसके साथ छेड़छाड़ व दुष्कर्म किया. पेट दर्द होने की जब उसने शिकायत मां से की तो मां ने गोली देकर चुप रहने को कहा. उसके बाद सबसे छोटे सौतेले चाचा सतेंद्र ने 11 वर्ष की उम्र से लेकर लगातार शादी होने तक उसके साथ दुष्कर्म किया. विरोध के नाम पर उसे डरा धमका कर रखा जाता था.

2011 में पीड़िता की शादी अलीगढ़ में रहने वाले एक फौजी युवक से हुई. जिससे पीड़िता की दो बेटियां हैं. पति ने वीआरएस लेकर अलीगढ़ में अपना व्यापार शुरू कर दिया. सब कुछ ठीक-ठाक चलता रहा. पति जब भी अपनी पत्नी से मायके जाने ही कहता था वह इंकार कर देती. 2019 में युवती अपने सौतेले भाई के साथ मायके पहुंची तो फिर उसके साथ वही दोहराने की कोशिश हुई. हालांकि इस बार उसने सख्ती से विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई और धमकाया कि तेरी शादी शुदा जिंदगी को बर्बाद कर देंगे. तेरे पति को फर्जी आरोपों में जेल भिजवा देंगे.

परेशान पत्नी से जब पति ने पूछा तो उसने सारा दर्द बयां कर दिया. इसके बाद पति ने अपनी पत्नी का साथ दिया और हर मोर्चे पर उस को न्याय दिलाने की ठानी. पति के सहयोग से पीड़िता ने आईजीआरएस पोर्टल से लेकर तमाम अधिकारियों को पत्र लिख मामले की जानकारी दी. जिसके बाद अब अलीगढ़ पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर थाना बन्नादेवी में मामला दर्ज कर लिया है.

शादी के बाद भी नहीं बदले हालात
पीड़िता अपने पति के साथ खुश थी। शादी के बाद उसकी दो बेटियां भी हो गईं। मगर, इसी बीच उसके पति ने सेना की नौकरी से रिटायरमेंट ले लिया और शहर में आकर अपना व्यापार शुरू कर दिया।

पति अपनी पत्नी से हमेशा मायके जाने के लिए कहता था, लेकिन वह मना कर देती थी। पति के बहुत कहने पर 2019 में एक दिन वह अपने सौतेले भाई के साथ मायके पहुंची। उस समय भी दोनों चाचा ने उसके साथ फिर वही सब करने की कोशिश की। मगर, इस बार उसने विरोध किया। इसके बाद उसके साथ मारपीट की गई और उसे धमकी दी गई कि उसके पति से उसे अलग करा देंगे।

महीनों घुटती रही फिर पति को बताई सच्चाई
2019 की इस घटना के बाद महिला महीनों घुटती रही। जब बर्दाश्त के बाहर हो गया, तो उसने अपने पति से यह सारी बात बताई। उसे डर था कि कहीं पति उसे गलत समझकर तलाक न दे दे। मगर, पति ने पत्नी का पूरा साथ दिया और इस घटना का विरोध किया।

सौतेले पिता, चाचा और भाई पर हुआ मुकदमा
पीड़िता ने CM पोर्टल समेत पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई। इसके बाद तत्काल इस मामले का संज्ञान लेते हुए महिला थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। सीओ शिव प्रताप ने बताया कि महिला की शिकायत पर उसकी मां, सौतेले पिता, चाचा और सौतेले भाई के खिलाफ मुकदमा किया गया है। मामले की जांच शुरू हो गई है और आरोपियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Latest News